नामांकन के लिये रिक्शा चलाकर निरहुआ पहुंचे कलेक्ट्रेट

नामांकन के लिये रिक्शा चलाकर निरहुआ पहुंचे कलेक्ट्रेट

आजमगढ़। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को उनके ही गढ़ में ललकारने की हिम्मत दिखाने वाले भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार और भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ शनिवार को फिल्मी अंदाज में रिक्शा चलाते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे और अपना नामांकन दाखिल किया। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा. महेन्द्र नाथ पांडेय की मौजूदगी में भरी दुपहरी डीएवी कालेज मैदान पर निरहुआ पहले से सजे धजे खड़े रिक्शा पर सवार हुये और चिरपरिचित मुस्कान के साथ कलेक्ट्रेट के लिये चल पड़े। रिक्शा निरहुआ चला रहे थे, जबकि सवारी की भूमिका में पार्टी जिलाध्यक्ष थे। इस मौके पर हजारों समर्थकों की भीड़ रिक्शे को धक्का लगाते हुये नारे लगा रही थी। करीब सात सौ मीटर की दूरी तय करने के बाद अभिनेता से नेता बने निरहुआ कलेक्ट्रेट पहुंचे और अपने वकील एवं प्रस्तावक के साथ भीतर चले गये। फिल्मी सितारे को देखने के लिये इस दौरान बड़ी तादाद में लोग मौजूद थे। इस संक्षिप्त से रोड शो के दौरान कलेक्ट्रेट और आसपास के क्षेत्र में जाम के हालात पैदा हो गये। गौरतलब है कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव इस बार मैनपुरी की बजाय अपने पिता एवं पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव के संसदीय क्षेत्र से ताल ठोक रहे हैं। श्री मुलायम सिंह यादव मैनपुरी से पार्टी प्रत्याशी हैं, जिन्होंने वर्ष 2०14 के लोकसभा चुनाव में आजमगढ़ में मोदी लहर के बावजूद भाजपा के रमाकांत यादव को 6० हजार से अधिक मतों से हराया था। इस बार भाजपा ने निरहुआ के अलावा गोरखपुर से एक और भोजपुरी सुपर स्टार रविकिशन पर दांव खेला है।

Share it
Top