बस्ती में नरेन्द मोदी के विरूद्ध परिवाद दाखिल...मोदी के बयान से शिव भक्तो की धार्मिक भावनाएं आहत हुई थी ,सुनवाई के लिए आठ अप्रैल की तिथि

बस्ती में नरेन्द मोदी के विरूद्ध परिवाद दाखिल...मोदी के बयान से  शिव भक्तो की धार्मिक भावनाएं आहत हुई थी ,सुनवाई के लिए आठ अप्रैल की तिथि

बस्ती। उत्तर प्रदेश के बस्ती में एक सामजिक कार्यकर्ता राना दिनेश प्रताप सिंह ने प्रधानमंत्री नरेन्द मोदी के विरूद्ध न्यायालय में परिवाद दाखिल किया है। श्री सिंह ने मंगलवार को संवाददताओं को बताया है कि उन्होंने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट मनोज कुमार की अदालत मे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ परिवाद दाखिल किया है। यह परिवाद काशी विश्वनाथ कारिड़ोर के शिलान्यास के दौरान दिए गए वक्तव्य से भावनाएं आहत होने पर दाखिल किया गया है। उन्होंने बताया कि दाखिल परिवाद में कहा गया है कि गत आठ मार्च 2०19 को वाराणसी मे प्रधानमंत्री ने शिलान्यास के मौके पर कहा था कि ढ़ाई सौ साल से बाबा भोले नाथ को सांस लेने मे दिक्कत हो रही थी, आज मुक्ति का पर्व है। बाबा का मां गंगा से सीधा संबंध हो गया है। उन्होंने कहा कि श्री मोदी के इस बयान शिव भक्तो की धार्मिक भावनाएं आहत हुई है। श्री सिंह ने बताया है कि न्यायालय ने इस परिवाद की सुनवाई के लिए आठ अप्रैल की तिथि नियत की है।

Share it
Top