सपा ने मुरादाबाद, गोरखपुर और कानपुर सीटों पर प्रत्याशी बदले...निषाद पार्टी के गठबंधन से अलग होने पर सपा ने लिया निर्णय

सपा ने मुरादाबाद, गोरखपुर और कानपुर सीटों पर प्रत्याशी बदले...निषाद पार्टी के गठबंधन से अलग होने पर सपा ने लिया निर्णय

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में निषाद पार्टी द्वारा शुक्रवार की रात महागठबंधन छोडऩे की घोषणा का पलटवार करते हुए समाजवादी पार्टी ने शनिवार को प्रतिष्ठित गोरखपुर लोकसभा सीट से मौजूदा संसद सदस्य प्रवीण निषाद को हटाकर पूर्व विधायक राम भुआल निषाद पार्टी का प्रत्याशी घोषित किया है, सपा ने शनिवार को तीन और उम्मीदवारों की घोषणा की है, जिसमें दो निषाद समुदाय से है। सपा ने गोरखपुर संसदीय सीट से राम भुआल निषाद और कानपुर सीट से राम कुमार निषाद को पार्टी का प्रत्याशी बनाया है, जबकि मुरादाबाद संसदीय क्षेत्र से पूर्व घोषित प्रतयाशी नासिर कुरैशी के स्थान पर पूर्व महापौर डा. एस.टी. हसन को चुनाव मैदान में उतारा है। श्री योगी आदित्यनाथ के 2०17 में उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद गोरखपुर संसदीय सीट से इस्तीफा दे दिया था। उपचुनाव में सपा ने निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद के बेटे प्रवीण निषाद को गोरखपुर सीट से चुनाव मैदान में उतारा था और जीत दर्ज की थी। निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद ने कहा है कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा था कि वह हमारी पार्टी के लिए सीटों का ऐलान करेंगे। उन्होंने अपने पोस्टरों में हमारी पार्टी का नाम और एक शब्द तक नहीं लिखवाया। उन्होंने कहा कि अब हम स्वतंत्र हैं और हमारे सामने सभी विकल्प खुले हैं। इसके बाद शुक्रवार देर शाम संजय निषाद ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। जल्द ही निषाद पार्टी एनडीए का हाथ थाम सकती है। गोरखपुर सीट से सपा प्रत्याशी राम भुआल निषाद एक हिस्ट्रीशीटर हैं और पिछले विधानसभा चुनावों के दौरान कांग्रेस उम्मीदवार और टीवी सीरियल अभिनेता काजल निषाद पर हमले के आरोपी हैं। वह हाल ही में थोड़े समय के लिए भाजपा में रहने के बाद सपा में लौट आये थे। कानपुर लोकसभा सीट से सपा प्रत्याशी राम कुमार निषाद, एक नये उम्मीदवार हैं और उन्होंने अतीत में वहां से कभी चुनाव नहीं लड़ा था। 2०14 के चुनावों में, व्यापारी नेता सुरेंद्र मोहन अग्रवाल सपा के उम्मीदवार थे। इन दो के साथ ही अब सपा ने उत्तर प्रदेश में अब तक 3० उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की है। अब केवल सात और उम्मीदवारों की घोषणा करनी शेष है। पार्टी गठबंधन तहत 37 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। वहीं समाजवादी पार्टी ने शनिवार को मुरादाबाद संसदीय क्षेत्र से पूर्व घोषित प्रत्याशी को बदलने का फैसला किया है। सपा मुरादाबाद से पूर्व घोषित उम्मीदवार नासिर कुरैशी के स्थान पूर्व महापौर डा. एस.टी. हसन को चुनाव मैदान पर उतारेगी। पार्टी सूत्रों ने बताया कि बहुजन समाज पार्टी (बसपा) छोड़कर करीब छह महीने पहले सपा में शामिल हुए कुरैशी को प्रत्याशी बनाए जाने पर पार्टी की स्थानीय इकाई में आक्रोश था, जिसके मद्देनजर श्री यादव ने उन्हे आज लखनऊ बुलाया था। सपा अध्यक्ष से बातचीत करने के बाद पार्टी ने नये प्रत्याशी की घोषणा की। पिछले गुरूवार को सपा ने मुरादाबाद से कुरैशी को प्रत्याशी बनाये जाने की घोषणा की थी।

Share it
Top