शहीद पंकज त्रिपाठी की पत्नी बोली- आज मिली 'कलेजे' को शांति

शहीद पंकज त्रिपाठी की पत्नी बोली- आज मिली

महराजगंज। पुलवामा आतंकी हमले का बदला लेने के लिए भारतीय वायुसेना द्वारा पाक अधिकृत कश्मीर में की गई एयर स्ट्राइक के बाद मंगलवार को महराजगंज के शहीद पंकज त्रिपाठी के गांव में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। शहीद की पत्‍नी रोहिणी त्रिपाठी ने कहा कि भारतीय सेना को ढूंढ-ढूंढ कर आतंकियों का सफाया करना चाहिए। रोहिणी ने कहा कि कार्रवाई का यह सिलसिला तब तक लगातार चलना चाहिए जब तक आतंकियों का धरती से नामोनिशान न मिट जाए। वहीं मोदी सरकार की इस एयर स्ट्राइक पर बोलते हुए उन्होंने कहा, आज हमारे कलेजे को शांति मिली हैं।' उन्होंने कहा कि आतंकी के भी शरीर के टुकड़े-टुकड़े हो जाए और उन सबकी पहचान बेल्ट व कपड़ों से हो।

भारतीय वायु सेना के मिराज 2000 फाइटर जेट्स ने मुजफ्फराबाद, बालाकोट और चकोटी के कई ठिकानों पर बमबारी की गई। सुबह 3।30 बजे हुई इस एयर स्ट्राइक में करीब 200-300 आतंकियों के मारे जाने की खबर है। वायुसेना के विमानों ने बीती रात नियंत्रण रेखा के पार आतंकी कैंप्स पर करीब 1000 किलोग्राम के बम बरसाए। इस हमले में जैश के अल्फ़ा-3 कण्ट्रोल रूम तबाह हो गए हैं।

बता दें, जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आत्मघाती आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान से संचालित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। इस हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि इस हमले का करारा जवाब दिया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि भारत ने इस हमले का बदला लेने के लिए अपने सुरक्षाबलों को खुली छूट दे दी है।

Share it
Top