एसटीएफ ने पकड़े पुलिस भर्ती के नाम पर ठगी वाले गिरोह के तीन सदस्य

एसटीएफ ने पकड़े पुलिस भर्ती के नाम पर ठगी वाले गिरोह के तीन सदस्य

लखनऊउत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने पुलिस भर्ती की आॅफ लाईन लिखित परीक्षा में सम्मिलित होने वाले अभ्यर्थियो को अनुचित तरीके से लाभ दिलाने का झांसा देकर ठगी करने वाले गिराेह के तीन सदस्यों को आगरा से गिरफ्तार किया गया है।

एसटीएफ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राज्य के विभिन्न जिलों में रविवार को आयोजित की गई पुलिस कांस्टेबल एवं आरक्षी पीएसी की भर्ती की आॅफ लाईन लिखित परीक्षा में सम्मिलित हाेने वालों अभ्यर्थियो को पेपर कराने में लाभ दिलाने का झांसा देकर ठगी करने वाले गिराेह के तीन सदस्यों काे आगरा के थाना न्यू आगरा क्षेत्र में आेवर ब्रिज के नीचे से गिरफ्तार किया।

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गये युवको में मथुरा निवासी शिव कुमार ,भुवनेश के अलावा कानपुर देहात निवासी सत्यम कटियार शामिल हैं । पकड़े गये ठगों के पास से 42000 की नगदी, कुछ फर्जी अाईडी और अन्य कार्ड बरामद किये गये ।

श्री सिंह ने बताया कि इस बात की जानकारी मिल रही थी कि पुलिस भर्ती परीक्षा के दौरान कुछ ऐसे गिरोह सक्रिय हैं जो अभ्यर्थियों को परीक्षा कराने के नाम पर अनुचित लाभ का झांसा देकर ठगी करते हैं । गिरोह के सदस्यों को पकड़ने के लिए एसटीएफ की कई टीमें लगाई गई थी । इसी क्रम में आगरा क्षेत्र के पुलिस उपाधीक्षक श्याम कांत के नेतृत्व वाली

फील्ड इकाई को सूचना मिली कि कुछ लोग पुलिस भर्ती परीक्षा में अभ्यर्थियाें से पैसा लेकर उनको लाभ पहुचाने के इरादे से थाना न्यू आगरा क्षेत्र में एकत्र हाे रहे हैंं।

उन्होंने बताया कि सचना पर एसटीएफ फील्ड यूनिट टीम के निरीक्षक हरीश वर्धन सिंह तथा उपनिरीक्षक मुनेश बाबू आदि मौके पर पहुंचे और तीनों आरोपियों को ओवर ब्रिज के नीचे से गिरफ्तार कर लिया गया। पकडये गये लोगों ने पूछताछ पर बताया कि वे लोग फर्जी दस्तावेज तैयार कर लिखित परीक्षा में पास करा भर्ती कराने के नाम पर लोगाें काे ठगते है जिसके एवज में ये लोग 6 से 8 लाख रुपये लेते हैं। पकड़े गये लोगों को न्यू आगरा थाने में दाखिल करा दिया गया है । आगे की कार्रवाई स्थानीय पुलिस करेगी।

Share it
Top