जरूरत पड़ने पर कांग्रेस उप्र में अपने बूते लड़ेगी चुनाव : चिदंबरम

जरूरत पड़ने पर कांग्रेस उप्र में अपने बूते लड़ेगी चुनाव : चिदंबरम

वाराणसी, वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) से लोकसभा चुनाव से पहले 'व्यापक गठबंधन' के लिए फिर से विचार करने की उम्मीद जताते हुए शनिवार को यहां कहा कि यदि जरूरत पड़ी तो निश्चित तौर पर कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश में अपने बल पर चुनावी मैदान में उतरेगी। अपनी पार्टी के लिए 'लोकसभा चुनाव-2019 घोषणा पत्र' तैयार करने के लिए वाराणसी में आयोजित 'जन आवाज' कार्यक्रम में विभिन्न वर्गों से 'संवाद' करने एक दिवसीय दौरे पर आये श्री चिदंबरम ने सपा-बसपा गठबंधन में कांग्रेस को जगह नहीं दिये जाने संबंधी संवाददाताओं के एक सवाल पर बिना किसी का नाम लिये कहा कि यह शायद उनका (मायावती-अखिलेश यादव का) अंतिम फैसला नहीं है। लोकसभा चुनाव नजदीक आने पर हो सकता है कि दोनों पार्टियां अपने गठबंधन को व्यापक रुप देने के लिए आज के अपने फैसले पर फिर से विचार करें और चुनाव से पहले एक 'व्यापक गठबंधन' बनकर सामने आये।

कांग्रेस की चुनाव घोषणा पत्र समिति के अध्यक्ष चिदंबरम ने कहा, "हम जानते हैं कि बीएसपी और एसपी ने आज गठबंधन की घोषणा की है लेकिन शायद यह उनका अंतिम फैसला नहीं है। जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आएंगे, ये हो सकता है कि वे इस पर फिर से विचार करें और सही मायने में एक 'व्यापक गठबंधन' बनकर सामने आयेगा।" [रॉयल बुलेटिन अब आपके मोबाइल पर भी उपलब्ध, ROYALBULLETIN पर क्लिक करें और डाउनलोड करे मोबाइल एप]

Share it
Top