मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बोला सड्डपा अध्यक्ष पर खुलकर हमला...औरंगजेब की तरह अवसरवादी हैं अखिलेश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बोला सड्डपा अध्यक्ष पर खुलकर हमला...औरंगजेब की तरह अवसरवादी हैं अखिलेश

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की तुलना मुगल शासक औरंगजेब से करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा कि अवसरवादिता में सपा मुखिया को कोई सानी नही है।

पिछडा वर्ग मोर्चा सम्मेलन को संबोधित करते हुए श्री योगी ने यहां कहा कि जो अपने बाप-चाचा का नहीं हुआ, वो आपको अपने साथ जोडऩे की बात करता है। इतिहास में एक पात्र आते हैं, कैसे उन्होंने अपने बाप को कैद करके रखा था, इसलिए कोई मुसलमान अपने बेटे का नाम औरंगजेब नहीं रखता। कुछ ऐसा ही समाजवादी पार्टी के साथ जोड़ा गया है। गौरतलब है कि गुरूवार को सपा अध्यक्ष ने अपने एक बयान में कहा था कि 2०19 के लोकसभा चुनाव के बाद योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की कुर्सी पर नहीं रहेंगे। उन्होने कहा कि निषाद राज के वंशज के रूप में आज सब एक महान परम्परा के वाहक रहे है। देश और समाज की रक्षा के लिए आपका समाज सदैव समर्पित रहा है। उन्होंने कहा कि आपके समाज ने देश को बहुत कुछ दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र और प्रदेश सरकार गरीबों-वंचितों-शोषितों-दलितों-पिछडों सहित समाज के सभी वर्गो के विकास के लिए बिना किसी भेदभाव के काम कर रही है। 2०11 में जब न देश में भाजपा की सरकार थी। न प्रदेश में उस समय सामाजिक आर्थिक जातीय सर्वेक्षण हुआ था, उस समय एक सूची बनी थी। उस सूची के अनुसार देश में आवास, शौचालय, विद्युत कनेक्शन और रसोई गैस का कनेक्शन देने का काम पहली बार किसी सरकार ने किया तो वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में चल रही भाजपा की सरकार ने किया है। उन्होंने कहा कि पहली बार समाज के सभी वर्गो को शासन की योजनाओं का लाभ बिना भेदभाव के मिल रहा है। सरकार का दायित्व है कि जो लोग गरीब है, वंचित है, उन्हें प्राथमिकता के आधार पर शासन की योजनाओं का लाभ मिले तभी सच्चे अर्थो में रामराज्य की स्थापना का मार्ग प्रशस्त होगा। श्री योगी ने निषाद-बिन्द-कश्यप आदि जातियों के आरक्षण की मांग का जिक्र करते हुए कहा कि यह समाज समाजवादी पार्टी की सरकार द्वारा जानबूझ कर बनाई गई नीतियों के कारण न्यायालय से स्थगनादेश के कारण आरक्षण से वंचित है, हमारी सरकार आपके हित के लिए न्यायालय में लगातार पैरवी कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन्होंने कभी अच्छा काम किया ही नहीं, उनसे अच्छे काम की उम्मीद भी नही की जा सकती। उन्होंने पूर्ववर्ती सपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सपा सरकार के कार्यकाल मे प्रदेश में अराजकता थी। प्रदेश दंगों की चपेट में था। मां-बहनों की इज्जत सुरक्षित नहीं थी, लेकिन आज पूरे प्रदेश में सभी त्योहार और पर्व शान्तिपूर्वक मनाये जा रहे है। किसी का भी साहस नहीं जो कानून-व्यवस्था में खिलवाड कर सके। प्रदेश में अब तक एक भी स्थान पर दंगा नही हुआ। श्री योगी ने श्रंगेरपुर धाम के विकास के लिए राज्य सरकार द्वारा 34 करोड़ रूपये आवंटित किये जाने का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदेश में चौतरफा विकास के लिए उनकी सरकार लगातार काम कर रही है। प्रदेश सरकार आम जनता के समस्याओं के समाधान और उनके कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सामाजिक प्रतिनिधि बैठक में उपस्थित प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश में पिछले 15 सालों में सपा-बसपा की सरकारों के चरित्र को आपने देखा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र व राज्य सरकार लोककल्याण के संकल्प के साथ काम कर रही है। उन्होंने सपा-बसपा-कांग्रेस का अब उ.प्र. में कोई भविष्य नहीं है। श्री मौर्य ने बच्चों की शिक्षा पर जोर देते हुए कहा कि किसी भी समाज के प्रगति के लिए उसको शिक्षित होना बहुत आवश्यक है। इसलिए आप सबको भी अपने बच्चों शिक्षित करने के लिए प्रयास करने चाहिए। उन्होंने भाजपा सरकार बच्चो को बेहतर शिक्षा मुहैया कराने के लिए लगातार काम कर रही है। आप सबका भी यह दायित्व है कि अपने समाज के लोगों को इस बात के लिए जागृत करे कि वे अपने बच्चों को शिक्षित बनाये। श्री मौर्य ने श्रंगेरपुर धाम के विकास की चर्चा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में चल रही प्रदेश सरकार कुम्भ के ऐतिहासिक आयोजन के लिए लगातार संकल्पवद्ध है। उन्होंने सामाजिक प्रतिनिधि बैठक में उपस्थित प्रतिनिधियों का आहवाहन किया कि वे 2०19 में एक बार फिर से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी को विजयी बनाकर पुन: प्रधानमंत्री बनाने के लिए एकजुट होकर काम करें।

Share it
Top