कान्हा गौशाला एवं पशु शेल्टर होम में भूसे-चारे के लिए धनराशि अवमुक्त

कान्हा गौशाला एवं पशु शेल्टर होम में भूसे-चारे के लिए धनराशि अवमुक्त

लखनऊ उत्तर प्रदेश सरकार ने 14 नगर निगमों द्वारा संचालित कान्हा गौशालाओं एवं पशु शेल्टर होम में रखे गये आवारा और बेसहारा पशुओं के भूसे चारे की व्यवस्था के लिए सात करोड़ रुपये जबकि सात नगर निकायों को गौशाला एवं पशु शेल्टर होम्स के निर्माण के लिए 568.23 लाख रुपये की धनराशि अवमुक्त कर दी गई है।

सरकारी प्रवक्ता ने यहां शुक्रवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि वित्तीय स्वीकृति के जारी आदेश में 14 नगर निगमों में नगर निगम-शाहजहांपुर, आगरा, अलीगढ़, मेरठ, वृन्दावन-मथुरा, बरेली, गाजियाबाद, मुरादाबाद, सहारनपुर, प्रयागराज, अयोध्या, झांसी, फिरोजाबाद तथा गोरखपुर शामिल हैं। उन्होंने बताया कि कान्हा गौशाला एवं बेसहारा पशु आश्रय योजना के तहत प्राविधानित धनराशि से स्वीकृत इस अनुदान में 14 नगर निगमों को प्रति नगर निगम 50 लाख धनराशि अवमुक्त की गयी है।

उन्होंने बताया कि बेसहारा पशुओं के लिए प्रदेश के सात नागर निकायों को कान्हा गौशाला एवं पशु शेल्टर होम्स के निर्माण के लिए 1136.40 लाख रुपये धनराशि की प्रशासकीय एवं विततीय स्वीकृति देते हुए 568.23 अवमुक्त कर दी है। यह निर्माण के लिए स्वीकृत कुल धनराशि की पचास प्रतिशत है तथा प्रथम किश्त के रूप में नगर पंचायत भगवन्तनगर-उन्नाव के लिए 82.95 लाख, नगर पालिका पंचायत उन्नाव के लिए 82.95, नगर पंचायत मीरापुर-उन्नाव के लिए 82.95 लाख, नगर पालिका पंचायत बहेड़ी-बरेली के लिए 70.73 लाख, नगर पंचायत मानिकपुर सरहट-चित्रकूट 82.95, नगर पंचायत अकबर-कानपुर देहात के लिए 82.95, नगर पालिका पंचायत नवाबगंज-गोण्डा के लिए 82.75 लाख रुपये की धनराशि अवमुक्त की गयी है। [रॉयल बुलेटिन अब आपके मोबाइल पर भी उपलब्ध, ROYALBULLETIN पर क्लिक करें और डाउनलोड करे मोबाइल एप]

Share it
Top