राजस्थान में अंबेडकरवादी लोगों को बनाया जा रहा लक्ष्य-मेवानी

राजस्थान में अंबेडकरवादी लोगों को बनाया जा रहा लक्ष्य-मेवानी


अलवर । गुजरात के निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवानी ने राजस्थान की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि राज्य में अंबेडकरवादी लोगों को चुन-चुनकर कर लक्ष्य बनाया जा रहा है।
मेवानी आज यहां पत्रकारों से कहा कि राजस्थान की वसुंधरा सरकार ने उनके राज्य में प्रवेश पर रोक लगाने की कोशिश कर उन्हें रोका जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि उनके प्रदर्शन और रैलियों पर इसलिए रोक लगाई जा रही है ताकि गत दो अप्रैल को भारत बंद के दौरान दलितों पर हुए अत्याचारों को लेकर कोई राज्य सरकार पर उंगली नहीं उठाये तथा खैरथल की घटना की सच्चाई बाहर नहीं आये। लेकिन उन्हें राजस्थान आने से कोई नहीं रोक सकता।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के होठों पर अंबेडकर जरूर है लेकिन उनके दिल में मनु बैठा हुआ है। उन्होंने कहा कि दो अप्रैल को सामंतवादी ताकतों द्वारा उत्पीड़न किया गया था। सैकड़ों दलित कर्मचारियों एवं अन्य लोगों को जेलों में बंद कर दिया गया। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि खैरथल में पवन की हत्या के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाना चाहिए तथा दलितों के खिलाफ दर्ज मुकदमें वापस लेकर पीड़ित परिवारों को मुआवजा दिया जाना चाहिए।
उन्होंने पवन की हत्या की जांच की मांग करते हुए कहा कि इस मामले की जांच सिविल सोसाइटी द्वारा किसी भी अधिकारी से कराई जानी चाहिए। इससे पहले वह खैरथल में दो अप्रैल को पुलिस की गोली से मौत हुई पवन जाटव के घर गए और उसके परिजनों से मुलाकात की। इसके बाद वह बंद के दौरान हुई हिंसा में गिरफ्तार दलितों के घर भी गये और घटना की जानकारी ली।

Share it
Top