पारसोली में ग्रामीणों ने चोर को पीटकर हत्या की

पारसोली में ग्रामीणों ने चोर को पीटकर हत्या की

चित्तौडगढ़। राजस्थान में चित्तौडगढ़ जिले के पारसोली थाना क्षेत्र में गत रात एक गांव में चोरी करने का प्रयास करते चोर को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और ग्रामीणों के पीटने से उसकी मौत हो गई।बेगू के पुलिस वृत्ताधिकारी राकेश राजोरा ने बताया कि पुलिस ने अज्ञात लोगों के विरूद्ध हत्या का प्रकरण दर्ज किया है। मृतक की अभी शिनाख्त नहीं हो पाई है। उन्होंने बताया कि पारसोली पुलिस को रात चार बजे सूचना मिली कि क्षेत्र के ग्राम नीलिया की माल में ग्रामीणों ने एक अज्ञात चोर को पकड़ लिया है जिसकी वे पिटाई कर रहे हैं।
पुलिस ने मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों के कब्जे से चोर को छुड़वाया और उसे उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि चोर के शव की शिनाख्त के लिए नदबई के स्वास्थ्य केंद्र पर रखवाया गया है।
माना जा रहा है कि अज्ञात चोर कंजर जाति का हो सकता है जो क्षेत्र में चोरी की वारदातों में लिप्त है और आसपास के ग्रामीण इनसे त्रस्त है जिसके चलते कई बार ग्रामीण इन्हें पीटकर मार देते हैं। उल्लेखनीय है कि अब तक का सबसे बड़ा कंजर हत्याकांड मंडावरी गांव का है जहां वर्ष 1989 में ग्रामीणों ने गांव पर हमला कर 11 कंजरों की हत्या कर दी थी। इसके अलावा तीन वर्ष पूर्व विजयपुर में तीन कंजरों और इस बीच अलग अलग क्षेत्रों में आधा दर्जन से अधिक कंजरों की ग्रामीणों ने हत्या कर दी थी।

Share it
Share it
Share it
Top