फर्जी पुलिसकर्मी बनकर जवाहरात ब्रोकर से दो लाख रुपये लेकर भागे

फर्जी पुलिसकर्मी बनकर जवाहरात ब्रोकर से दो लाख रुपये लेकर भागे


जयपुर। माणकचौक थाना इलाके में शुक्रवार को दिनदहाड़े बाइक सवार दो बदमाश फर्जी पुलिसकर्मी बनकर एक जवाहरात ब्रोकर से दो लाख रुपये लेकर भाग निकले। वारदात के बाद थाना पुलिस मौके पर पहुंची। आसपास बदमाशों की तलाश की, लेकिन नजर नहीं आए। अब सीसीटीवी फुटेज में आए शातिर ठगों के हुलिए के आधार पर उनकी तलाश की जा रही है।

एसीपी माणकचौक राजपाल गोदारा ने बताया कि ठगी की वारदात सुशील कुमार के साथ हुई। वह जौहरी बाजार में जवाहरात की ब्रोकर का काम करते है। सुबह करीब 11:30 बजे सुशील कुमार रुपयों से भरा बैग लेकर कुंदीगर भैरोंजी के रास्ते में पहुंचे। जहां बाइक सवार दो बदमाश उनका पीछा करते आए। इनमें एक बदमाश पहले ही साइड में उतर गया। इसके बाद बाइक सवार बदमाश ने ब्रोकर सुशील कुमार को रुकवाया। शातिर ठग ने खुद को पुलिसकर्मी बताते हुए कि बाजार में जवाहरात की एक गद्दी पर ड्रग्स पकड़ी है। ऐसे में आपका भी बैग चेक करना है। इसी बीच बदमाश ने इशारा कर नजदीक खड़े अपने साथी को राहगीर के नाते बुलाया।

उसका भी बैग चेक करने का नाटक करने लगा। तब फर्जी पुलिसकर्मियों के झांसे में आए सुशील कुमार ने भी अपना बैग बदमाश का सौंप दिया। पीड़ित के अनुसार उसके बैग में करीब दो लाख 88 हजार रुपये रखे थे। इनमें दो लाख रुपए पांच-पांच सौ की चार गड्डियों में एक पैकेट में रखे थे। बाकी 88 हजार रुपए अलग से थे। तब बदमाश ने बैग चेक करने के बहाने चकमा देकर दो लाख के नोटों का पैकेट निकाल लिया और अपने साथी बदमाश के बैग में डाल दिया। इसकी भनक पीड़ित सुशील कुमार को नहीं लगी। वह बदमाश से अपना बैग लेकर अपने घर पहुंचे। वहां रुपयों को संभाला। तब दो लाख रुपयों के नोटों की गड्‌डी गायब मिली तो उनके होश उड़ गए। इसके बाद माणकचौक थाने पहुंचकर ठगी की जानकारी दी । बाजार में आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले। तब बाइक सवार दो बदमाश नजर आए। उन्होंने हेलमेट लगा रखा था। जिनकी तलाश में पुलिस टीम लगा दी है।


Share it
Top