राफेल विमान सौदे में बड़ा भ्रष्टाचार-हुड्डा

राफेल विमान सौदे में बड़ा भ्रष्टाचार-हुड्डा


जयपुर । हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने राफेल लडाकू विमान सौदे को बड़ा भ्रष्टाचार बताते हुए इस प्रकरण की जांच संयुक्त संसदीय समिति से कराने की मांग की है।

श्री हुड्डा ने आज यहां पत्रकारों को बताया कि कांग्रेस नेतृत्व वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार के समय राफेल लडाकू विमानों का सौदा जिस कीमत पर तय हुआ था भाजपा सरकार ने उससे तीन गुणी ज्यादा कीमत में यह सौदा एक उद्योगपति को फायदा देने के लिए किया। उन्होंने कहा कि इस सौदे के समय कीमत के बारे में बातचीत के लिए गठित समिति को नजरअंदाज किया गया तथा सौदा होने की घोषणा से दो दिन पहले ही केबिनेट बैठक बुलाने की खानापूर्ति की गयी।

उन्होंने कहा कि वायु सेना ने 136 विमानों की मांग रखी थी लेकिन सरकार का 36 विमान खरीदने का सौदा करने का क्या औचित्य रहा। उन्होंने कहा कि संप्रग सरकार के समय हिन्दुस्तान एयरोनोटिक्स लिमिटेड को कार्य आदेश देने की बात समझौते में शामिल थी लेकिन भाजपा सरकार ने इसे रिलायंस डिफेन्स लिमिटेड को दे दिया जिसका इस मामले में कोई अनुभव नहीं है।

इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस उपखण्डस्तर पर धरना प्रदर्शन एवं ज्ञापन देगी।

Share it
Share it
Share it
Top