आंधी में बिछी गेहूं की पकी खड़ी फसल तथा वर्षा से मंडियों में भीगा गेहूं

आंधी में बिछी गेहूं की पकी खड़ी फसल तथा वर्षा से मंडियों में भीगा गेहूं

चंडीगढ़। पश्चिमोत्तर क्षेत्र में पिछले चौबीस घंटों के दौरान कहीं आंधी तो कहीं बारिश हुई जिससे मंडियों में पड़ा गेहूं भीग गया तथा पकी खड़ी फसल को भी थोड़ा नुकसान हुआ । मौसम केन्द्र के अनुसार अगले दो दिनों में कहीं कहीं गरज के साथ छींटे पडऩे, अंधड आने तथा हल्की बारिश की संभावना है । दो दिन के बाद कई स्थानों पर बारिश की संभावना है । हिमाचल प्रदेश में भी कुछ स्थानों पर वर्षा हुई जिससे रबी की पकी खड़ी फसल को नुकसान हुआ और पिछेती फसल को फायदा हुआ है । बारिश के कारण मौसम सुहावना हो गया तथा मैदानी इलाकों में गर्मी से राहत मिली। चंडीगढ़ तथा इसके आसपास सुबह अचानक काले बादलों ने डेरा जमा लिया और कुछ देर तक बादल झूमकर बरसे । शहर में 22.6 मिलीमीटर, अंबाला एक मिमी, हिसार पांच मिमी, करनाल छह मिमी, नारनौल में हल्की बूंदाबांदी, रोहतक तीन मिमी, भिवानी 15 मिमी, सिरसा छह मिमी सहित राज्य के कुछ हिस्सों में तेज बारिश हुई जिससे हरियाणा की मंडियों में आया गेहूं भीग गया । पंजाब के कुछ हिस्सों में भी आज बारिश हुई तथा बठिंडा जिले में बूंदाबांदी के साथ आंधी आयी। अमृतसर में 14 मिमी, लुधियाना एक मिमी, पटियाला एक मिमी, फरीदकोट आठ मिमी, बल्लोवाल पांच मिमी, पठानकोट 10 मिमी, आदमपुर 11 मिमी, हलवारा में दो मिमी, संगरूर, रोपड सहित कुछ इलाकों में हल्की बारिश हुई । पंजाब की मंडियों में अभी गेहूं की आवक बहुत धीमी रही जिससे किसानों का ज्यादा नुकसान नहीं हुआ । श्रीनगर में 20 मिमी तथा जम्मू आठ मिमी वर्षा हुई । हिमाचल की चोटियों पर हल्की बर्फ पड़ी तथा मध्यम पहाडियों तथा निचले इलाकों में वर्षा हुई । शिमला 26 मिमी, मनाली दो मिमी, भुंतर तीन मिमी, धर्मशाला चार मिमी, कांगडा छह मिमी, सुंदरनगर दो मिमी, नाहन 12 मिमी, सोलन 14 मिमी, कल्पा पांच मिमी सहित कुछ इलाकों में तेज हवा के साथ वर्षा हुई ।अगले 24 घंटों में कई स्थानों पर बारिश के आसार हैं ।

Share it
Top