18 आईएएस अधिकारियों के स्थानांतरण..सिंह बने वन के अपर मुख्य सचिव, मलय को गृह

18 आईएएस अधिकारियों के स्थानांतरण..सिंह बने वन के अपर मुख्य सचिव, मलय को गृह

भोपाल। मध्यप्रदेश में भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के 18 अधिकारियों के स्थानांतरण किए गए हैं। गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव के के सिंह को वन विभाग सौंपा गया है। मलय श्रीवास्तव अब परिवहन के स्थान पर गृह विभाग के प्रमुख सचिव होंगे। उज्जैन और देवास में नए कलेक्टर बनाए गए हैं।
यह सूची कल देर रात जारी की गई। इंदौर के संभाग आयुक्त संजय दुबे को श्रम विभाग में प्रमुख सचिव बनाया गया है। अब तक श्रम विभाग के प्रमुख सचिव अश्विनी राय को मछुआ कल्याण एवं मत्स्य विकास विभाग भेजा गया है। दुबे के स्थान पर इंदौर में वाणिज्यिक कर आयुक्त राघवेंद्र सिंह को संभाग आयुक्त बनाया गया है।
तकनीकी शिक्षा और कौशल विकास के प्रमुख सचिव संजय बंदोपाध्याय को अनुसूचित जाति विभाग का जिम्मा सौंपा गया है। उनके स्थान पर मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव अशोक वर्णवाल को तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास में प्रमुख सचिव पदस्थ किया गया है।
मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक आकाश त्रिपाठी को महिला एवं बाल विकास में आयुक्त बनाया गया है। उनको आयुक्त विमानन का अतिरिक्त प्रभार भी दिया गया है। राज्य लोक सेवा आयोग के सचिव डॉ पवन कुमार शर्मा को वाणिज्यिक कर में आयुक्त पदस्थ किया गया है। सहकारिता आयुक्त रेणु पंत को राज्य लोक सेवा आयोग में सचिव बनाया गया है।
समग्र सामाजिक सुरक्षा के मिशन संचालक का अतिरिक्त प्रभार संभाल रहे मुख्यमंत्री के सचिव बी चंद्रशेखर को लोक सेवा प्रबंधन में कार्यपालक संचालक का काम भी सौंपा गया है। मुख्यमंत्री के उप सचिव नंदकुमारम को पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में प्रबंध संचालक नियुक्त किया गया है।
शहडोल के संभाग आयुक्त रजनीश श्रीवास्तव को नया आबकारी आयुक्त बनाया गया है। यह पद अरुण कोचर के सेवानिवृत्त होने के बाद से रिक्त था। श्री श्रीवास्तव की जगह छिंदवाड़ा के कलेक्टर जे के जैन को शहडोल का संभाग आयुक्त पदस्थ किया गया है।
दो कलेक्टर भी बदले गए हैं। संकेत भोंडवे के केंद्र में प्रतिनियुक्ति पर जाने से इंदौर नगर निगम के आयुक्त मनीष सिंह को उज्जैन का कलेक्टर बनाया गया है। देवास के कलेक्टर अाशीष सिंह अब इंदौर नगर निगम के आयुक्त होंगे। उनके स्थान पर पर्यटन बोर्ड के अपर प्रबंध संचालक डॉ श्रीकांत पांडे को देवास कलेक्टर का जिम्मा सौंपा गया है। अवकाश से लौटने पर श्रीमती तन्वी सुंद्रियाल को राज्य इलेक्ट्रॉनिक विकास निगम का प्रबंध संचालक बनाया गया है।

Share it
Top