इंदौर में दो लोगों को रिश्वत लेते हुए रंगों हाथ गिरफ्तार किया गया

इंदौर में दो लोगों को रिश्वत लेते हुए रंगों हाथ गिरफ्तार किया गया

इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर शहर के लोकायुक्त पुलिस ने आज अलग-अलग जगहों से दो अधिकारी को रिश्वत लेते हुए रंगों हाथ गिरफ्तार किया है। इंदौर लोकायुक्त ने आज बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए दो रिश्वतखोरों को रंगेहाथों पकड़ा है। पहली कार्रवाई नवलखा स्थित वन विभाग रेंज कार्यालय में की। टीम ने यहां डिप्टी रेंजर अशोक कुमार दुबे को 3 हजार तथा दूसरी कार्रवाई मूसाखेड़ी में नगर निगम के सहायक दरोगा अंतिम डांगर को 2 हजार की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया । विशेष पुलिस स्थापना शाखा लोकायुक्त इंदौर के उप अधीक्षक दिनेश पटेल ने यहां बताया कि लकड़ी से खिलौने बनाने के कारखाना संचालक शक्ति सिंह ने गत दिनों लोकायुक्त कायालय में शिकायत दर्ज कर बताया था कि वन विभाग के डिप्टी रेंजर अशोक कुमार दूबे ने कुछ दिन पूर्व शक्ति सिंह के कारखाने से लकड़ी से खिलौने बनाने में प्रयुक्त की जाने वाली मशीन जब्त की थी। मशीन छोडऩे के एवज में डिप्टी रेंजर दूबे ने 10 हजार रुपये रिश्वत की मांग की थी ।
लोकायुक्त पुलिस के अनुसार शक्ति सिंह ने डिप्टी रेंजर श्री दूबे को पेशगी के रूप में पांच हजार रुपये पूर्व में दिए थे। जांच में शिकायत सही पाए जाने पर यह कार्यवाही की। डिप्टी रेंजर दूबे को शक्ति सिंह से तीन हजार रुपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया। इसी प्रकार लोकायुक्त ने नगर निगम के मूसाखेड़ी वार्ड के सहायक दरोगा अंतिम डागर पर की। टीम ने डागर को 2 हजार की रिश्वत लेते निगम कार्यालय में गिरफ्तार किया। सहायक दरोगा डागर ने फरियादी महेन्द्र बोदे को सफाईकर्मी के पद पर बनाए रखने और अनावश्यक परेशान न करने के लिए उक्त राशि की मांग की थी।

Share it
Share it
Share it
Top