सचिवालय ने विधायकों की सूची से प्रहलाद लोधी का नाम हटाया

सचिवालय ने विधायकों की सूची से प्रहलाद लोधी का नाम हटाया


भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा सचिवालय ने विधायकों की सूची से भाजपा नेता प्रहलाद लोधी का नाम हटा दिया है। वह पवई विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित हुए थे। सचिवालय ने लोधी की सदस्यता रद्द करने के बाद अब विधायकों को मिलने वाले उनके अधिकार और सुविधाओं को बंद कर दिया है।

हाईकोर्ट ने लोधी की सजा पर भले ही रोक लगा दी है, लेकिन उन्हें राहत मिलती नजर नहीं आ रही। सचिवालय ने उन्हें शीतकालीन सत्र की अधिसूचना भी नहीं भेजी है। अब उनके वेतन भत्ते अन्य सुविधाएं बंद किए जाने की तैयारी है। लोधी का अकाउंट ब्लॉक कर दिया है। अब वो ऑनलाइन सवाल भी नहीं पूछ सकेंगे। उनके लिखित सवाल भी मान्य नहीं होंगे। इसके अलावा सभी सुविधाएं भी प्रहलाद लोधी से छीनी जाएंगी। वेतन भत्ते पर रोक लगाने के निर्देश दिए जा चुके हैं।

विधानसभा सचिवालय ने इनका वेतन जारी नहीं करने के निर्देश संंबंधितों को दिए हैं। प्रहलाद लोधी को एक मामले में दो साल की सजा सुनाई जा चुकी है। इसके बाद उनकी सदस्यता रद्द कर दी गई थी। सजा पर लोधी को हाई कोर्ट से राहत जरूर मिली है, लेकिन सदस्यता को लेकर अब भी संशय है। सदस्यता बहाली को लेकर भाजपा और कांग्रेस के बीच जंग जारी है। मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुका है।


Share it
Top