एलएलबी के छात्र ने की खुदकुशी, दादा की बंदूक से खुद को गोली से उड़ाया

एलएलबी के छात्र ने की खुदकुशी, दादा की बंदूक से खुद को गोली से उड़ाया


इंदौर। शहर के परदेशीपुरा थाना क्षेत्र की क्लर्क कालोनी में रहने वाले एलएलबी के छात्र ने शनिवार को देर रात अपने दादा की लाइसेंसी बंदूक से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। उसने कनपटी पर बंदूक अड़ाकर चलाई, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। जान देने से पहले उसने दादा-दादी की मालिश भी की थी।

क्लर्क कॉलोनी में रहने वाले 21 वर्षीय नयन पुत्र राजेश मौर्य को बीती देर रात उसके परिजन खून से लथपथ हालत में बाम्बे हॉस्पिटल लेकर पहुंचे थे, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। मृतक के मामा मुकेश ने बताया कि रात करीब डेढ़ बजे बहन रीता ने बेटे नयन के द्वारा खुद को गोली मारने की बात कही थी। वह तुरंत घर पहुंचा और उसे अस्पताल ले गया। हालांकि उसकी मौके पर ही मौत हो चुकी थी। नयन तीन भाइयों आयुष और अंकित में मंझला था। पिता प्रॉपर्टी ब्रोकर हैं। उसके दादा रामदास मौर्य भी प्रॉपर्टी ब्रोकर थे।

दादा-दादी की मालिश की

नयन मेघदूत गार्डन के सामने श्याम सेंडविच नाम से दुकान लगाने के साथ एलएलबी की पढ़ाई भी कर रहा था। रोजाना वह पहली मंजिल पर अपने कमरे में खाना खाता था। कल रात घर पर पहुंचा और अपने कमरे में जाने के बजाय तल मंजिल पर दादा-दादी के पास रुक गया। यहां दोनों की मालिश की और इस दौरान उनसे कुछ बातचीत भी की।

मां को खाना लेने को भेजा

इसके बाद नयन ने मां रीता को खाना लाने को कहा। मां खाना लेने गई इस बीच उसने अपने दादा की लाइसेंसी बंदूक से अपनी कनपटी पर गोली चला ली। गोली चलने की आवाज सुनते ही परिवार के लोग उसके कमरे में पहुंचे तो वह लहूलुहान हालत में पड़ा हुआ था।

परिवार सकते में

नयन की मौत के बाद से ही पूरे परिवार में रुदन मचा हुआ है। सभी आत्महत्या करने के कारणों को लेकर सकते हैं। उसकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी। ना ही वह किसी लड़की के चक्कर में था फिर भी उसने आत्महत्या क्योंकि इसे लेकर सभी उलझन में हैं। अस्पताल की सूचना पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। परदेशीपुरा पुलिस के अनुसार, शव का एमवाय अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया जाएगा। परिजन व दोस्तों के बयान के बाद ही आत्महत्या के कारणों का पता चलेगा।

Share it
Top