सेक्स सीडी कांड : वीडियो को एडिट कर मंत्री का चेहरा लगाने वाला गिरफ्तार

सेक्स सीडी कांड : वीडियो को एडिट कर मंत्री का चेहरा लगाने वाला गिरफ्तार


रायपुर। छत्तीसगढ़ के बहुचर्चित सीडी कांड मामले में पुलिस ने एक आरोपित को ओडिशा के कटक से गिरफ्तार कर लिया है। बताया जाता है कि गिरफ्तार आरोपित मानस साहू ने ही वेबसाइट से पोर्न वीडियो निकाल कर उसे संपादित कर तत्कालीन भाजपाई मंत्री राजेश मूणत का चेहरा लगाया था। मंगलवार को आरोपित को कटक से गिरफ्तार कर देर रात राजधानी रायपुर लाया गया है और उससे पूछताछ चल रही है।

उल्लेखनीय है कि तत्कालीन मंत्री राजेश मूणत की फर्जी अश्लील सीडी मामले ने पूरे प्रदेश की राजनीति को गरमाया हुआ है। इस मामले में हंगामा होने पर सीबीआई जांच के आदेश दिए गए थे। सीबीआई ने अपनी जांच में खुलासा किया था कि मानस ही वह आरोपित है, जिसने अश्लील वीडियो को संपादित कर उसमें पूर्व मंत्री राजेश मूणत का चेहरा लगाया था। सूत्रों के अनुसार ऐसी कई सीडियां तैयार की गई थीं। खास बात यह है कि सीबीआई ने इस सीडी कांड में मानस को सरकारी गवाह बनाया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार सीडी केस की चार्जशीट में बताया गया है कि कारोबारी कैलाश मुरारका, रिंकू और विजय नाम के आरोपित सीडी टेंपर करवाने के लिए मुंबई गए थे। वहां पर वे आरोपित मानस के संपर्क में रहे। मानस मूलत: कटक निवासी है और मौजूदा समय वह मुंबई के कांदिवली वेस्ट में रहता है। वहां उसका स्टूडियो है, और वह वहां पर संपादन का कार्य करता है। जहां पर एक आरोपित विजय पांड्या का लगातार आना-जाना था। इस फर्जी अश्लील सीडी की कई कापियां तैयार कर इसे रिंकू को दिया गया था। रिंकू द्वारा मानस को पूरे पैसे नहीं दिये जाने पर बार- बार कॉल की जा रही थी। इसी कॉल डिटेल से आरोपित मानस का पता चला।

बताया जाता है कि मानस ने पूछताछ में सीडी टेंपरिंग की बात स्वीकार की है। पुलिस इस मामले में दो अन्य आरोपितों कैलाश मुरारका और विजय पांड्या की तलाश कर रही है। दोनों लापता है। उल्लेखनीय है कि मंगलवार की दोपहर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के तत्कालीन ओएसडी अरुण बिसेन को पूछताछ के लिए बुलाया गया था। मामले के अन्वेषण के दौरान अरुण बिसेन का भी नाम प्रमुखता से आया है। सूत्रों के अनुसार डीएसपी अभिषेक महेश्वरी, त्रिलोक बंसल और निरीक्षक मोहसिन खान ने लंबे समय तक उनसे पूछताछ की और लगभग 40 सवाल पूछे। पूछताछ में कई महत्वपूर्ण जानकारियां हासिल होने की जानकारी मिली है।

ज्ञातव्य है कि इस मामले में पत्रकार विनोद वर्मा की दिल्ली से गिरफ्तारी की गई थी। विनोद वर्मा मौजूदा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के अभी सलाहकार हैं।


Share it
Top