अंबाह : निर्दलीय किन्नर प्रत्याशी बिगाड़ सकती है तीनों दलों के समीकरण

अंबाह : निर्दलीय किन्नर प्रत्याशी बिगाड़ सकती है तीनों दलों के समीकरण



मुरैना। मध्यप्रदेश के मुरैना जिले के विधानसभा क्षेत्र अंबाह में इन दिनों एक निर्दलीय प्रत्याशी सबके आकर्षण का केंद्र बनी हुई है। निर्दलीय प्रत्याशी नेहा किन्नर इन दिनों जोर-शोर से अपने प्रचार में जुटी हैं। इस सीट से बहुजन समाज पार्टी ने मौजूदा विधायक सत्यप्रकाश सखवार को ही दोबारा मैदान में उतारा है। भारतीय जनता पार्टी ने इस सीट से गब्बर सखवार और कांग्रेस ने कमलेश जाटव पर दांव खेला है।

रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

भाजपा, कांग्रेस और बसपा तीनों ही प्रमुख राजनीतिक दलों ने सखवार बहुल्य इस क्षेत्र से जाटव जाति के उम्मीदवार ही चुनाव मैदान में उतारे हैं। वहीं सपाक्स समर्थित निर्दलीय नेहा किन्नर बेड़िया जाति से ताल्लुक रखने के कारण गैर जाटव उम्मीदवार हैं। राजनीतिक जानकारों के मुताबिक इस वजह से उन्हें सवर्णों से समर्थन मिलने की उम्मीद है, जो इस चुनाव में अन्य दलों के समीकरण बिगाड़ सकती है।

ये क्षेत्र दो अप्रैल को दलित आंदोलन के दौरान हुई हिंसा से खासा प्रभावित रहा था। ऐसे में मौजूदा चुनाव में यहां एक बार फिर अनुसूचित जाति-जनजाति अधिनियम में संशोधन का मुद्दा गर्मा गया है।


Share it
Top