अवमानना से डरे सांसद ने दो मिनट पहले ही चला लिए पटाखे

अवमानना से डरे सांसद ने दो मिनट पहले ही चला लिए पटाखे


उज्जैन। उज्जैन के सांसद चिंतामणि मालवीय ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन न करते हुए रात 10 बजे के बाद ही पटाखे चलाने की बात कही थी। लेकिन पुलिस प्रशासन ने उन्हें अवमानना के मामले का डर दिखाया, तो वे मान गए और समय सीमा से दो मिनट पहले ही पटाखे चला लिए।

सांसद चिंतामणि मालवीय की घोषणा को देखते हुए दीपावली की शाम माधवनगर पुलिस और प्रशासन के अधिकारी उनके आवास पर पहले ही पहुंच गए थे। टीम ने वहां डेरा डाल दिया। रात करीब 9.30 बजे जब अधिकारियों ने सांसद को बताया कि अगर आप सुप्रीम कोर्ट का आदेश नहीं मानेंगे और रात 10 बजे के बाद पटाखे फोड़ेंगे तो आपके खिलाफ अवमानना केस दर्ज हो सकता है। पुलिस के पहुंचने की खबर सुनकर बड़ी संख्या में सांसद के समर्थक भी वहां पंहुच गए और नारेबाजी शुरू कर दी। लेकिन आखिरकार सांसद मान गए और उन्होंने समय सीमा खत्म होने से ठीक दो मिनट पहले 9 बजाकर 58 मिनट पर बम फोड़कर दीपावली मनाई। इस बारे में सांसद मालवीय ने कहा कि मैं सुप्रीम कोर्ट के आदेश का सम्मान करता हूं। रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

Share it
Top