सरकारी साइकिलों में विधायक का स्टीकर लगाने से विवाद

सरकारी साइकिलों में विधायक का स्टीकर लगाने से विवाद


महासमुन्द । छत्तीसगढ़ के महासमुन्द में भाजपा कार्याकर्ताओं और स्थानीय निर्दलीय विधायक के बीच चल रहे विवाद ने कल फिर एक बार तूल पकड़ लिया जब मुख्यमंत्री साइकिल योजना के तहत वितरित होने वाली साइकिलों में विधायक के स्टीकर लगा दिए गए।
नगर के स्टेशन रोड स्थित एक गोदाम से श्रम विभाग द्वारा मुख्यमंत्री साइकिल योजाना के तहत क्षेत्र के लोगों को कल साइकिल वितरण किया जा रहा था। बांटी जा रही साइकिल की टोकरियों में मुख्यमंत्री का मोनो लगा हुआ था उस मोनो के ऊपर निर्दलीय विधायक डॉ.विमल चोपड़ा के लोगों ने विधायक की फोटो वाली स्टीकर लगा दी।
मामले की जानकारी भाजपा नेता योगेश्वर चन्द्राकर को हुई तो वह तत्काल वहां पहुंचे और मुख्यमंत्री के लगे मोनो के ऊपर विधायक की फोटो वाली स्टीकर लगी होने पर विरोध जताया और कलेक्टर से शिकायत की।कलेक्टर ने श्रम अधिकारी और एसडीएम को स्टीकर हटाने का आदेश दिया।आखिरकार श्रम विभाग के लोगों ने सायकिलों में लगी विधायक की फोटो वाली स्टीकर हटाया।
विधायक डॉ.चोपड़ा ने इस मामले में पत्रकारों से कहा कि जो स्टीकर लगाये थे उसमें जनहित के मुद्दे लिखे हैं। वो न तो सरकारी कर्मचारी लगा रहे थे न ही वोट मांगने के लिए लगाये गये थे। स्टीकर में शराब बंदी, पानी बचाने, साफ-सफाई, बिजली की बचत करने जैसी जनहित की बात लिखी है।उन्होने कहा कि भाजपा नेताओं को आपा नहीं खोना चाहिए, लोकतंत्र में सबको अपना प्रचार करने की इजाजत है।

Share it
Top