भाजपा में टिकट जाति-धर्म से नहीं, काम देखकर : शाहनवाज

भाजपा में टिकट जाति-धर्म से नहीं, काम देखकर : शाहनवाज


इंदौर। पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने भाजपा द्वारा एक धर्म विशेष के लोगों को मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी नहीं बनाने को खारिज करते हुए कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं की पार्टी हैं, जो धर्म देखकर नहीं बल्कि काम देखकर टिकिट देती है।

हुसैन ने यहां कल रात संवाददाताओं के प्रश्नों का उत्तर देते हुये कहा कांग्रेस को मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में 4-5 नहीं, बल्कि कम से कम 40 टिकट धर्म विशेष के लोगों को देना चाहिये थे। उन्होंने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि अब तक धर्म विशेष के मतों के विभाजन की राजनीति कर कांग्रेस अपने फायदे के लिये भुनाती रही है।

हाल ही में उत्तरप्रदेश के फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या किये जाने के प्रश्न पर हुसैन ने कहा कि दुनिया के हिंदुओं की राम में आस्था है। अयोध्या एक पुराना नाम था जिसे बदलकर फैजाबाद किया गया था। अब उसे यथावत कर दिया गया है। उन्होंने आगे कहा कि इसमें किसी को कोई आपत्ति नही है।

बीते 10 महीने में उत्तरप्रदेश में पुलिस मुठभेड़ में मारे गये एक हजार से अधिक लोगों के मामले में विपक्ष द्वारा अल्पसंख्यकों को निशाना बनाये जाने के प्रश्न पर श्री हुसैन ने उत्तर देते हुये कहा कि पुलिस मुठभेड़ में मरने वाले लोग अपराधी हैं, उन्हें किसी धर्म से जोड़कर नहीं देखना चाहिये। उन्होंने कहा अपराधी का कोई धर्म नहीं होता।

श्री हुसैन शुक्रवार रात विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के पुत्र और इंदौर-3 से भाजपा प्रत्याशी आकाश विजयवर्गीय के समर्थन में जनसंपर्क करने पहुंचे थे। उन्होंने यहां जनसंपर्क कर भाजपा के पक्ष में मतदान करने की अपील की।

Share it
Top