कश्मीर देश का आंतरिक मुद्दा, अंतरराष्ट्रीयकरण न करे कांग्रेस : राजनाथ सिंह

कश्मीर देश का आंतरिक मुद्दा, अंतरराष्ट्रीयकरण न करे कांग्रेस : राजनाथ सिंह


चंडीगढ़। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कश्मीर को देश का आतंरिक मुद्दा बताते हुए कांग्रेस को इसका अंतरराष्ट्रीयकरण न करने की नसीहत दी। रक्षा मंत्री ने स्पष्ट किया कि भाजपा ने अनुच्छेद-370 को खत्म करके कश्मीर में मानवाधिकारों का हनन रोका है। कांग्रेस नेता विदेश में जाकर कश्मीर मामले में मानवाधिकार हनन का आरोप लगाते हैं, जबकि सच्चाई तो यह है कि पहले मानवाधिकारों का हनन होता था, अब नहीं। यही नहीं भाजपा ने ऐसी कोई किसी भी मर्यादा का उल्लंघन नहीं किया है, जिससे देश व लोकतंत्र टूटता हो। अनुच्छेद-370 को समाप्त करके देश को एकता व अखंडता में बांधने का काम किया गया है।

रक्षा मंत्री गुरुवार को भिवानी जिले के गांव खरक में बवानी खेड़ा से भाजपा उम्मीदवार बिशंबर वाल्मीकि व भिवानी से उम्मीदवार घनश्याम सर्राफ के समर्थन में चुनाव प्रचार करने के दौरान जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

रक्षा मंत्री ने राफेल की पूजा करने एवं ओम लिखने पर कांग्रेस को नसीहत देते हुए कहा कि देश की रक्षा के लिए राफेल जरूरी है। जिसे खरीदने के लिए कांग्रेस 16 साल से फैसला नहीं ले पाई, उसे मोदी सरकार ने चंद दिनों में करके दिखाया। रक्षा मंत्री ने राफेल मिलने को सैन्य ताकत की मजबूती बताते हुए कहा कि यदि हमारे पास पहले राफेल होता तो पुलवामा हमले का बदला लेने के लिए पाकिस्तान में जाने की जरूरत नहीं पड़ती। आज देश की सैन्य ताकत मजबूत हो रही है और यही कारण है कि पड़ोसी देश भारत की ओर आंख उठाने की हिमाकत नहीं कर पा रहे हैं।

रक्षा मंत्री राजनाथ ने वैश्विक आर्थिक मंदी की बात करते हुए कहा कि वैश्विक आर्थिक मंदी से आज पूरी दुनिया प्रभावित है, परन्तु इसका प्रभाव भारत में कम पड़ा है।


Share it
Top