विस में जूते निकालने का मामला: नेता प्रतिपक्ष बोले, सेल्फ डिफेंस के लिए उठाया था कदम

विस में जूते निकालने का मामला: नेता प्रतिपक्ष बोले, सेल्फ डिफेंस के लिए उठाया था कदम



चंडीगढ़। नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने कहा कि विधानसभा में सेल्फ डिफेंस के लिए कदम उठाया था, क्योंकि इस मामले में विस स्पीकर ने कोई दखल नहीं दिया था। कांग्रेस के ने यह सब जानबूझकर किया है, क्योंकि उन्हें मालूम था कि वे सदन में राॅबर्ट वाड्रा के मामले में सरकार से जवाब मांगेंगे। जब वे सरकार से इस बारे में जवाब मांगते तो कांग्रेस यह नहीं चाहती थी कि उनकी मौजूदगी में यह सब कुछ पेश हो।कहीं उनके सवालों में कांग्रेस फंसकर खड़ी न हो जाए। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने जानबूझकर यह षड्यंत्र रचा।

अभय चौटाला बुधवार को इनेलो कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। नेता प्रतिपक्ष ने रॉबर्ट वाड्रा मामले में सरकार को घेरते हुए कहा कि चार साल पहले इनेलो की ओर से वाड्रा के खिलाफ शिकायत पेश की गई थी। इसकी शिकायत बकायदा राज्यपाल को भी दी गई थी। सदन में भाजपा सरकार ने वाड्रा के खिलाफ कार्रवाई करने का दम भरा था, लेकिन चार साल बीत जाने के बाद उनकी शिकायत को पेश किया गया है।उन्होंने पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए कहा कि अधिकारियों को अभी तक कुछ भी करने के आदेश नहीं है। इससे साबित हो जाता है कि कांग्रेस व भाजपा आपस में मिली हुई हैं।

अभय ने स्पीकर की भूमिक पर उठाए सवाल

विधानसभा में मंगलवार 1 सितम्बर को जो हुआ उसको लेकर अभय सिंह चौटाला ने कहा कि वह हरियाणा को कलंकित बताए जाने पर करण सिंह दलाल के निलंबन की बात स्पीकर को कह रहे थे इस दौरान करण सिंह दलाल ने उन्हें, उनके पिता ओमप्रकाश चौटाला व पूर्व उप प्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी देवीलाल के लिए अपशब्द कहे। साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस के विधायक खड़े होकर उनके ऊपर हमला करने के लिए चले थे, इसीलिए उन्होंने सेल्फ डिफेंस में यह कदम उठाया, जबकि स्पीकर ने इस दौरान कोई दखल नहीं दिया। यदि स्पीकर पहले ही कलंकित शब्द कहने पर करण दलाल को नेम करके सदन से बाहर निकाल देते तो यह नौबत नहीं आती।

पूरे मामले में हुड्डा का हाथ

अभय सिंह चौटाला ने आरोप लगाया कि इस पूरे मामले में पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा का हाथ है। उन्होंने ही करण सिंह दलाल को मुझे अपशब्द कहने और मेरे ऊपर हमला करने के लिए उकसाया है। अभय सिंह चौटाला ने कहा कि करण सिंह दलाल की है आदत है इससे पहले भी वह उसके खिलाफ पुलिस में शिकायत दे चुके हैं।

गरीबों के नाम पर होना चाहते हैं शहीद

करण दलाल द्वारा गरीबों से जुड़े मामले को लेकर बसपा सुप्रीमो मायावती को पत्र लिखने के सवाल का जवाब देते हुए अभय चौटाला ने कहा कि अब कांग्रेस गरीबों के नाम पर शहीद होना चाहती है। सारी उम्र कांग्रेस ने गरीबों को लूटा। हुड्डा व वाड्रा के खिलाफ एफआईआर इस बात का परिणाम है।

कांग्रेस के कहने से नहीं होती जमानत खारिज

कांग्रेस विधायक द्वारा पटियाला हाउस कोर्ट में जमानत याचिका खारिज करने की मांग पर अभय ने कहा कि कांग्रेस के कहने से जमानत खारिज नहीं होती है। यदि वे कोर्ट की अवमानना करें तो अलग बात है, लेकिन जब भी उनकी कोर्ट में तारीख होती है वे समय पर जाते हैं। कांग्रेस ने भी पहले भी बेनामी चिट्ठियां लिखी हैं, जिस पर कोर्ट ने स्वयं संज्ञान लेते हुए सीबीआई को चिट्ठियां लिखने वालों को पेश करने के आदेश दिए थे, लेकिन सभी पते फर्जी पाए गए।

Share it
Share it
Share it
Top