नशा मुक्ति केंद्र के कर्मचारी लेने आए तो युवक ने खाया जहर, पुलिस ने केंद्र संचालक सहित तीन पर केस दर्ज

नशा मुक्ति केंद्र के कर्मचारी लेने आए तो युवक ने खाया जहर, पुलिस ने केंद्र संचालक सहित तीन पर केस दर्ज



रोहतक। नशा मुक्ति केंद्र में भर्ती करने के लिए ले जा रहे युवक ने संदिग्ध परिस्थितियों में जहरीला पदार्थ खा लिया, जिससे उसकी मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस पीजीआई पहुंची और शव को अपने कब्जे में ले लिया। मृतक के पिता का कहना है कि केंद्र संचालक व तीन अन्य कर्मचारियों की लापरवाही के चलते उसके बेटे ने जहर खाया है। पुलिस ने इस संबंध में तीनों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। साथ ही पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस मामले की गहनता से छानबीन कर रही है।

पुलिस के अनुसार श्याम कॉलोनी निवासी सुमित को नशे का आदि होने के चलते परिजनों ने सोनीपत स्थित एक नशा मुक्ति केंद्र में भर्ती कराया था। तीन माह नशा मुक्ति केंद्र में रहने के बाद अब सुमित कुछ दिन पहले ही घर आया था और उसने फिर से नशा करना शुरू कर दिया था। जिसके कारण परिजनों ने एक बार फिर से मुक्ति केंद्र में भेजने के लिए केंद्र संचालक सुरेश सूचना दी।

सोमवार दोपहर करीब एक बजे केंद्र संचालक गाड़ी लेकर अपने तीन अन्य कर्मचारियों के साथ सुमित के घर पहुंचा और परिजनों की सहायता से सुमित को गाड़ी में बिठा लिया। कुछ समय बाद केंद्र संचालक ने सुमित के परिजनों को फोन पर सूचना दी कि सुमित ने जहरीला पदार्थ खा लिया है। मामले का पता चलते ही परिजन पीजीआई पहुंचे लेकिन तब तक सुमित की मौत हो चुकी थी। मृतक के पिता का आरोप है कि केंद्र संचालक व अन्य कर्मचारियों की लापरवाही के चलते सुमित ने जहर खाया है। पुलिस ने इस संबंध में केंद्र संचालक व अन्य आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है।


Share it
Top