मोदी पहुंचे गुजरात, बतौर प्रधानमंत्री पहली बार जायेंगे पैतृक गांव

मोदी पहुंचे गुजरात, बतौर प्रधानमंत्री पहली बार जायेंगे पैतृक गांव


जामनगर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक माह के भीतर अपने गृहराज्य गुजरात के तीसरे दौरे पर आज यहां पहुंच गये। अपनी इस दो दिवसीय यात्रा के दौरान कल वह बतौर प्रधानमंत्री पहली बार अपने पैतृक गांव वडनगर भी जायेंगे और इसके लिए पूरे शहर को सजाया संवारा गया है। वडनगर रेलवे स्टेशन के पास के उस पेड को भी सजाया गया है जहां वह बचपन में चाय बेचते थे। इसके अलावा जगह जगह उनके बचपन और युवावस्था से जुडी तस्वीरों और घटनाओं वाली होर्डिंग्स भी लगायी गयी है। मोदी वायुसेना के विशेष विमान से आज सुबह जामनगर हवाई अड्डे पर पहुंचे जहां मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, उपमुख्यमंत्री नीतिन पटेल, पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती आनंदीबेन पटेल और मुख्य सचिव जे एन सिंह ने उनका स्वागत किया। गुजरात में विधानसभा के इस चुनावी साल में मोदी का यह कुल मिला कर सातवां दौरा है जबकि प्रधानमंत्री बनने के बाद कुल मिला कर उनकी 17 वीं यात्रा है। हालांकि मई 2014 में यह पद संभालने के बाद वह पहली बार अपने गांव जायेंगे।
मोदी, जिन्होंने पिछले माह भी दो बार गुजरात का दौरा किया था, इस बार भी ताबडतोड विभिन्न योजनाओं का भूमिपूजन, लोर्कापण अथवा उद्घाटन भी करेंगे। इसमें उनके पैतृक गांव वडनगर में एक मेडिकल कॉलेज और अस्पताल के उद्घाटन का काम भी शामिल होगा। इसके अलावा प्रमुख रूप से वह 2500 करोड की लागत वाली राजकोट अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा परियोजना तथा ओखा-बेट द्वारका पुल का भूमिपूजन और नर्मदा पर बने एक बराज और अमूल से जुडी एक डेयरी के संयंत्र का उद्घाटन भी करेंगे। जामनगर हवाई अड्डे से हेलीकॉप्टर के जरिये द्वारका रवाना हो गये जहां जगत मंदिर में भगवान द्वारकाधीश की पूजा कर अपने दौरे की शुरूआत करेंगे । समुद्र के बीच स्थित बेट द्वारका को ओखा से जोडने वाले 3.92 किमी लंबे और 962 किमी की लागत वाले केबल पुल शिलान्यास करेंगे। प्रमुख तीर्थ नगरी द्वारका आने वाले असंख्य तीर्थयात्री अब तक बेट द्वारका जाने के लिए एकमात्र साधन के तौर पर समुद्र में नौका का इस्तेमाल करते हैं।

Share it
Top