फैक्टरी में करंट से कारीगर की मौत, कारीगरों और पुलिस में झड़प

फैक्टरी में करंट से कारीगर की मौत, कारीगरों और पुलिस में झड़प


अहमदाबाद/सूरत। बमरौली में हरिओम इंडस्ट्री के एक कारखाने में करंट लगने से एक कारीगर की मौत होने के बाद हालात बिगड़ गए | घटना की सूचना मिलने पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी पहुंचें | इस बीच शववाहिनी में तोड़फोड़ की गई | इससे स्थिति तनावपूर्ण हो गई |

बमरोली क्षेत्र में हरिओम इंडस्ट्री की 138 नंबर की स्टॉक फैक्टरी है | मूल रूप से ओडिशा का रहने वाला 40 वर्षीय कारीगर दया मोहन गॉड संचा कारीगर के रूप में काम कर रहा था | सुबह फैक्टरी में काम करते समय अचानक करंट की चपेट में आकर वह जमीन पर जा गिरा | इसे लेकर साथी कारीगर इकट्ठा हो गए | फैक्टरी मालिक को इस बारे में सूचना दी गई | हालांकि, मालिक ने कारीगरों से दया को ऊपरी मंजिल पर ले जाने के लिए कहा | साथ ही यह हिदायत दी कि उसके (फैक्टरी मालिक के) आने के बाद इलाज कराया जाएगा |

इस बीच, कारखाने पर बड़ी संख्या में साथी कारीगर एकत्र हो गए और चीख-पुकार मच गई | घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस भी फैक्टरी में पहुंच गई | इकट्ठा हुए लोगों ने कारखाना मालिक को मुआवजे और अन्य मांगों के बारे में बताया | इसके बावजूद कोई समझौता नहीं हो पाया था |

साथी कारीगरों और परिवार के सदस्यों ने कहा कि करंट लगने के कारण दया की मौत हुई है। जब तक फैक्टरी मालिक उसके आश्रित परिवार को 10 लाख रुपये मुआवजा नहीं देगा और शव को पैतृक स्थल तक ले जाने की व्यवस्था नहीं करेगा, तब तक शव को स्वीकार नहीं किया जाएगा | हालांकि, इस बीच शव को ले जाने के लिए शव वाहिनी को आते देख उपस्थित भीड़ को गुस्सा आ गया और उन्होंने उस पर और पुलिसकर्मियों पर पथराव कर दिया | पथराव कर रहे लोगों को काबू करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े| फिलहाल पुलिस अधिकारी पूरे माहौल को शांत करने में जुट गए हैं | वर्तमान में स्थिति नियंत्रण में है और बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात है | अब शव को पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल ले जाया जाएगा |


Share it
Top