बोधगया विस्फोट मामले में सुनवाई अंतिम चरण में

बोधगया विस्फोट मामले में सुनवाई अंतिम चरण में

पटना। बौद्धों के पवित्र तीर्थस्थल बोधगया स्थित महाबोधि मंदिर परिसर में हुये बम विस्फोट के मामले में विशेष अदालत में आज अभियुक्तों का बयान लेने की कार्रवाई पूरी हो गई। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के विशेष न्यायाधीश मनोज कुमार सिन्हा की अदालत में मामले के पांच आरोपियों का बयान आज पूरा हुआ। पांचो आरोपितों का बयान दर्ज करने में करीब 10 दिनों का समय लगा एवं प्रत्येक अभियुक्त से लगभग दो-दो सौ सवाल पूछे गये। मामले में सफाई साक्ष्य पेश करने के लिए अदालत ने 19 जुलाई 2017 की तिथि निश्चित की है। उल्लेखनीय है कि 13 जुलाई 2013 को गया जिले के बोधगया स्थित महाबोधि मंदिर परिसर में सिलसिलेवार बम धमाके हुये थे। इस मामले में झारखंड के हैदर अली, मुजीबुल्लाह और इम्तियाज अंसारी तथा छत्तीसगढ़ में रायगढ़ के उमर सिद्दीकी एवं अजहरुद्दीन आरोपित हैं। इस मामले में एनआईए ने 03 जून 2014 को आरोप पत्र दाखिल किया था और विशेष अदालत ने संज्ञान लेने के बाद 12 जुलाई 2014 को आरोपितों के खिलाफ आरोप का गठन कर मामले में सुनवाई शुरू की थी। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच हो रही अदालती कार्रवाई में एनआईए ने अपना मुकदमा साबित करने के लिए 90 गवाहों को पेश किया है।

Share it
Top