अटारी बार्डर पार कर भारत आये 32 पाकिस्तानी, कानपुर में एक को सेना ने दबोचा

अटारी बार्डर पार कर भारत आये 32 पाकिस्तानी, कानपुर में एक को सेना ने दबोचा


कानपुर। कानपुर के कैंट क्षेत्र में गुरुवार सुबह एक संदिग्ध दिखा जिसकी तलाश सेना की इंटेलीजेंस कई दिनों से तलाश कर रही थी। सेना ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पता चला कि 32 लोग करीब एक माह पहले अटारी बार्डर पार कर भारत आयें हैं। उसके पास से मिले दस्तावेजों से सेना को शक है कि वह यहां पर रैकी करने आया था।
कानपुर में सेना की कई बटालियन हैं और कैंट के लंबे क्षेत्रफल पर उनका ठिकाना है। यहां पर सेना के तमाम आधुनिक हथियार और गोला बारूद का भंडारण भी होता है। ऐसे में सेना की इंटेलीजेंस यहां पर बराबर निगरानी करती रहती है। सेना के इंटेलीजेंस विभाग के मुताबिक करीब एक सप्ताह पहले पता चला था कि सेना की गतिविधयों की रैकी करने के लिये कुछ पाकिस्तानी यहां पर आये हुये हैं। जिसके चलते इंटेलीजेंस के अधिकारी व कर्मचारी सतर्क होकर उसकी खोज में जुट गये। गुरूवार को सुबह कैंट क्षेत्र में इंटेलीजेंस को एक संदिग्ध दिखायी दिया और उसे रूकने का इशारा किया तो वह भागने लगा। जिसके बाद इंटेलीजेंस के कर्मचारियों ने उसे दौड़ाकर धर दबोचा।
सेना ने बताया कि पूछताछ में पता चला है कि कुल 32 लोग करीब एक माह पहले अटारी बार्डर पार कर भारत आये हैं और सभी अलग-अलग शहरों में हैं। कहा, उच्चाधिरियों को पूरे मामले से अवगत करा दिया गया है। बताया कि प्रथम दृष्तया उसने अपना लाहौर निवासी एहसान प्लस जफर टू बताया है। सबसे बड़ी बात यह है कि उसके पास मिली डायरी में जो कुछ भी लिखा है वह कोड वर्ड में है।

Share it
Share it
Share it
Top