पीयूष गोयल ने पत्रकार को दिया एक दिन का रेलमंत्री बनने का ऑफर

पीयूष गोयल ने पत्रकार को दिया एक दिन का रेलमंत्री बनने का ऑफर

नई दिल्ली। रेलमंत्री पीयूष गोयल ने एक पत्रकार को एक दिन के लिए रेलमंत्री बनने का ऑफर देकर देशभर की मीडिया को चौंका दिया है। उनके इस कदम से सभी को नायक फिल्म का सीन याद आ रहा है जिसमें अमरीश पुरी पत्रकार बने अनिल कपूर को एक दिन का सीएम बनने का ऑफर देते हैं।
मोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर आयोजित की गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में रेल मंत्रालय की उपलब्धियों के बारे में बता रहे थे। इसी दौरान एक मीडियाकर्मी ने रेल विभाग से जुड़ी समस्याओं को लेकर सुझावों से भरी एक चिट्ठी रेलमंत्री को सौंपी थी।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मीडियाकर्मी ने जब रेलमंत्री को वो लेटर दिया, उसे देखने के बाद रेलमंत्री मुस्कुराने लगे। इसके बाद उन्होंने वो किया जिसके बारे में किसी ने सोचा भी नहीं था। उस लेटर को देखने के बाद रेलमंत्री ने उस पत्रकार को एक दिन के लिए रेलमंत्री बनने का ऑफर दे दिया।
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने फिल्म 'नायक' का जिक्र करते हुए कहा, 'नायक फिल्म की तरह एक दिन के लिए आप मेरी जगह ले लो और खुद नियम कायदों को लागू कराओ।'रेलमंत्री की ये बात सुनकर वहां मौजूद लोगों को लगा कि वे मजाक में ये बात कह रहे हैं, लेकिन वे अपनी बात को लेकर सीरियस थे। उन्होंने वहां मौजूद रेल बोर्ड के चैयरमैन से इस तरह का एक मॉक इवेंट भी आयोजित करने के लिए कहा। हालांकि इसके साथ ही ये भी कहा कि 'ताकि सबका मनोरंजन हो सके।' इसके बाद उन्होंने कहा कि वह उसके सुझावों पर जरुर गौर करेंगे।
खबरों के मुताबिक बीते दो महीने से ट्रेनों के देरी से चलने की वजह से रेलवे को आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा है। कुछ ट्रेनों ने कई कई घंटे देरी का रिकॉर्ड बनाया है जिसको लेकर रेल मंत्रालय दुश्वारियों का शिकार हो रहा है। इसपर रेल मंत्री ने कहा था कि अगर आगे भी ऐसा ही चलता रहा तो अधिकारियों के प्रमोशन रोक दिए जाएंगे, हालांकि रेल विभाग ने ट्रेनों के लेट होने के पीछे चल रहे मेंटेनेंस के कार्य को जिम्मेदार बताया था।

Share it
Top