कांग्रेस की इफ्तार पार्टी में फीकी रही महागठबंधन की झलक

कांग्रेस की इफ्तार पार्टी में फीकी रही महागठबंधन की झलक


नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की ओर से बुधवार शाम इफ्तार पार्टी दी गई थी, जिसमें महागठबंधन के नेताओं को आमंत्रित किया गया था लेकिन बड़े नेताओं की बिना इफ्तार पार्टी फीकी रही। मुख्य बात यह रही है कि कांग्रेस द्वारा आयोजित इफ्तार पार्टी में सोनिया गांधी भी अनुपस्थित रहीं।
ताज पैलेस होटल में आयोजित इस इफ्तार पार्टी में कांग्रेस ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह, झामूमो नेता शिबू सोरेन, पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदम्बरम, पूर्व मंत्री एके एंटनी, बदरुद्दीन अजमल, पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, जेडीयू के बाग़ी नेता शरद यादव, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी(एनसीपी) डीपी त्रिपाठी, डीएमके नेता कन्निमोझी, बसपा नेता सतीश चंद्र मिश्रा, जेडीएस प्रवक्ता दानिश अली, सीपीआईएम महासचिव सिताराम येचुरी और राजद प्रवक्ता मनोज झा शामिल हुए।
हालांकि खास बात यह रही कि यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के इफ्तार पार्टी में नहीं होने के चलते महागठबंधन में शामिल दलों के मुख्य नेता भी इस मौके पर शामिल नहीं हुए। जिसके बाद यह पार्टी मात्र एक औपचारिकता बन कर रह गई। कांग्रेस पार्टी के लिए सराहनीय बात यह रही कि प्रणब मुखर्जी के नागपुर संघ मुख्यालय जाने के बाद भी राहुल गांधी ने अपनी इस इफ्तार में उनका बड़े सम्मान से स्वागत किया।
वहीं टेबल पर राहुल ने प्रणब और दूसरे नेताओं से पूछा कि क्या उन्होंने मोदी का फिटनेस वीडियो देखा? इसके बाद राहुल गांधी ने ठहाका लगाते हुए टिप्पणी की 'अजीब था!' उल्लेखनीय है कि कांग्रेस इस इफ्तार पार्टी के माध्यम से 2019 के लोकसभा चुनावों के मद्देनजर विपक्षी एकता को साधने के लिए प्रयासरत है। इससे पहले कांग्रेस की तत्कालीन अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 2015 में इफ्तार पार्टी दी थी।

Share it
Share it
Share it
Top