सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश

सुल्तानपुर में फ्लाईओवर का पिलर टेढा होने पर जांच के आदेश



सुल्तानपुर। उतर प्रदेश के वाराणसी में निर्माणाधीन फ्लाईओवर के पिलर गिरने से हुए हादसे को देखते हुए सुल्तानपुर जिलाधिकारी ने निर्माणाधीन एक फ्लाईओवर के पिलर टेढ़ा होने पर मुख्य विकास अधिकारी को जांच के आदेश दिए है तथा सेतु निगम के उप परियोजना प्रबंधक से भी जबाब तलब किया गया है।
आधिकारिक सूत्रों के अनुसार वित्तीय वर्ष 2016-17 में प्रदेश सरकार ने गोमती नदी पर सिरवारा घाट और अमिलिया कला घाट पर करीब 15-15 करोड़ रुपए की धनराशि से 181 मीटर के पांच पिलर के ब्रिज की स्वीकृति मिली है। विधानसभा 2017 के चुनाव के कारण दोनों सेतु का निर्माण कार्य रुक गया था। सूबे की सत्ता बदलने के बाद भी नदी के सेतु के लिए शासन ने स्वीकृति देकर धनराशि आवंटन की।
राशि आवंटन होने के बाद वर्ष 2018 में कार्यदायी संस्था सेतु निगम ने नदी में कुएं खोदकर पिलर बनाने का काम शुरू किया। कुएं खोदने के बाद निर्माण शुरू होते ही पिलर टेढ़ा हो गया। सेतु निगम ने नदी पर पिलर बनाने का काम शुरू कराया था। दक्षिण दिशा की तरफ पिलर बनते ही टेढ़ा हो गया। जिसकी शिकायत जिला प्रशासन तक पहुँची तो जिलाधिकारी विवेक ने कल मामले को गम्भीरता से लेते हुए सेतु निगम के डी.पी.एम.ई. प्रशांत कुमार सिंह से जबाब तलब करते हुए जिले के मुख्य विकास अधिकारी राधेश्याम को जांच का आदेश दिया है।

Share it
Top