कर्नाटक में भाजपा ने संविधान का मजाक उड़ाया: राहुल गांधी

कर्नाटक में भाजपा ने संविधान का मजाक उड़ाया: राहुल गांधी


नई दिल्ली। कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करने के राज्यपाल वजूभाई वाला के फैसले को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने "लोकतंत्र की पराजय" करार देते हुए कहा है कि स्पष्ट बहुमत नहीं होने के बावजूद सरकार बनाने की भाजपा नेताआें की जिद ने संविधान का मजाक उडाया है।
गांधी ने टवीट् कर कहा" कर्नाटक में स्पष्ट बहुमत नहीं होने के बावजूूद भाजपा नेताओं की सरकार बनाने की तर्कहीन जिद कुछ और नहीं बल्कि संविधान का मजाक है। आज सुबह जब भाजपा अपनी खाेखली जीत का उत्सव मना रही है तो देश लोकतंत्र की पराजय पर शोेक मना रहा होगा।"
कांग्रेस ने राज्यपाल के इस निर्णय को "लोकतंत्र की हत्या" करार देते हुए उन पर आरोप लगाया है कि वह भाजपा की कठपुतली के तौर पर काम कर रहे हैं।
गौरतलब है कि कर्नाटक विधानसभा चुनावों में भाजपा को 104, कांग्रेस को 78, जनता दल (एस) को 37, बहुजन समाज पार्टी को एक और निर्दलीय को दो सीटों पर विजय हासिल हुई है। लेकिन कांग्रेस और जनता दल (एस) ने हाथ मिलाकर सरकार बनाने का दावा पेश किया था। भाजपा सबसे अधिक सीटें जीत कर सबसे बड़ी एकल पार्टी के रूप में सामने आयी और राज्यपाल ने कल रात सबसे बड़ी एकल पार्टी के तौर पर भाजपा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया था ।

Share it
Share it
Share it
Top