सहारनपुर में भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष के छोटे भाई की हत्या का खुलासा

सहारनपुर (गौरव सिंघल)। उत्तर प्रदेश की सहारनपुर पुलिस ने भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष के छोटे भाई सचिन वालिया की हत्या का खुलासा करते हुये इस मामले में एक युवक को गिरफ्तार किया है।
सहारनपुर रेंज के उप पुलिस महानिरीक्षक शरद सचान ने आज यहां बताया कि पुलिस ने गैर इरातदन हत्या के आरोपी रामनगर इलाका निवासी प्रवीण उर्फ मांडा को कल गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से एक तमंचा बरामद किया गया है।
उन्होंने कहा कि गिरफ्तार प्रवीण मांडा ने पुलिस को बताया कि उसे घटना वाले दिन फोन करके सचिन वालिया ने अपने मोहल्ले रामनगर में निहाल के घर पर बुलाया था। जहां पर पांच अन्य साथी नितिन, निहाल, चौकी, शिवम, राहुल और गुल्लू मौजूद थे। तमंचे में कारतूस भरा हुआ था। एक-एक कर सभी साथी तमंचे से खेल रहे थे कि अचानक उसके हाथ से तमंचे का ट्रिगर दब गया और गोली सीधे सचिन वालिया के मुंह पर लगी। उसे जिला अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
इस मामले की जांच क्षेत्राधिकारी (शहर) इंदु सिद्धार्थ ने की। गिरफ्तार प्रवीण के खिलाफ आईपीसी की धारा 304 गैर इरातदन हत्या और अवैध तमंचा रखने के अपराध में आर्म्स एक्ट 25/27 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।
इस मामले की तफ्तीश अभी जारी है। घटना के दौरान निहाल के कमरे में मौजूद अन्य युवकों को अभी आरोपी नहीं बनाया गया। पुलिस ने गैर इरातदन हत्या के आरोपी प्रवीण उर्फ मांडा गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
गौरतलब है कि गत नौ मई को महाराणा प्रताप जयंती के दिन भीम आर्मी सहारनपुर के जिलाध्यक्ष कमल वालिया के छोटे भाई सचिन वालिया (21) की गोली लगने से मौत हो गयी थी। सचिन की मौत से सहारनपुर दहल गया था और जातीय हिंसा की आशंका पैदा हो गई थी।
इस हादसे को हत्या का रूप देने और राजपूत समाज के चार लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Share it
Share it
Share it
Top