मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का तोहफा, काशी में आयुष्मान योजना से जुड़े 19 हजार परिवार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का तोहफा, काशी में आयुष्मान योजना से जुड़े 19 हजार परिवार

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तोहफा दिया है। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) से छूटे 19,817 गरीब परिवारों को मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान से जोड़कर उनका स्वास्थ्य बीमा कर दिया गया है। अब इन परिवारों को रुपये के अभाव में उपचार के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। मुख्यमंत्री की पहल पर गरीबों को दिए गये इस लाभ के बाद जिले में अब आयुष्मान लाभार्थी परिवारों की संख्या 2.2 लाख हो गई है।

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. वी बी सिंह ने गुरुवार को बताया कि मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत चयनित लाभार्थी परिवारों के आयुष्मान पत्र 'पीएमजेवाई पोर्टल' में आ चुके हैं। जिनको पोर्टल से निकालकर बहुत जल्द वितरण शुरू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) लांच के समय लाभार्थी परिवारों को जोड़ने के लिए वर्ष 2011 की आर्थिक गणना (सेक डाटा) से परिवारों का चयन किया गया। इस सर्वे में जिले के 2 लाख से अधिक परिवारों को चयनित किया गया।

मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने आयुष्मान के लाभ से कुछ परिवारों के छूटने की बात कह कर 2011 की आर्थिक गणना (सेक डाटा) से सर्वे कराया। इसमें जिले में 19,817 गरीब परिवार पात्र पाये गये, जिनका मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान के तहत स्वास्थ्य बीमा किया गया। उन्होंने बताया कि चयनित इन परिवारों का स्वास्थ्य खर्च अब प्रदेश सरकार वहन करेगी। आयुष्मान भारत की जिला समन्वयक डॉ. पूजा जायसवाल ने बताया कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तरह ही मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान है। प्रदेश सरकार से चयनित पात्रों के स्वास्थ्य का खर्च प्रति वर्ष 5 लाख रुपये सरकार वहन करेगी। इसमें लाभार्थी परिवार जिले में कुल सूचीबद्ध 118 सरकारी और निजी चिकित्सालयों में योजना के तहत उपचार करा सकते हैं।

गोल्डन कार्ड बगैर लाभ नहीं

डॉ.पूजा जायसवाल के अनुसार आयुष्मान योजना के तहत चयनित पात्र गोल्डेन कार्ड के बिना लाभ नहीं पा सकते हैं। योजना का पत्र मिलते ही आधार कार्ड के साथ जन सेवा केंद्रों पर 30 रुपया शुल्क अदा कर कार्ड बनवा सकते हैं। वहीं पंजीकृत अस्पताल में यह सुविधा निःशुल्क हैं।

योजना एक नगर में-

लाभार्थी परिवार- 2.2 लाख

बना गोल्डेन कार्ड- 1.03 लाख

उपचार कराए पात्र- 9,202


Share it
Top