चन्दौली: गलत नीतियों के कारण सत्ता से बाहर जा रही भाजपा-मायावती..प्रधानमंत्री बन गये प्रचार मंत्री-अखिलेश यादव

चन्दौली: गलत नीतियों के कारण सत्ता से बाहर जा रही भाजपा-मायावती..प्रधानमंत्री बन गये प्रचार मंत्री-अखिलेश यादव

चन्दौली । लोकसभा चुनाव के अन्तिम दौर में शुक्रवार को बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा मुखिया अखिलेश यादव ने चन्दौली में केन्द्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। दोनों नेताओं ने कहा कि चुनाव में भाजपा सरकार का जाना तय है। देश को नया प्रधानमंत्री मिलने वाला हैं। चुनाव प्रचार के अन्तिम दिन गठबंधन की साझा रैली में दोनों नेताओं ने गठबंधन के स्थानीय उम्मीदवार संजय चौहान को जीताने का आह्वान किया। जनसभा में जहां बसपा प्रमुख भाजपा के साथ कांग्रेस पर जमकर बरसती रही। वहीं अखिलेश रैली में भाजपा पर ही हमलावर रहे।

बसपा सुप्रीमो ने भाजपा पर सीधे निशाना साधते हुए कहा कि छह चरणों के चुनाव परिणाम में ही तय हो गया है कि ज्यादातर गठबंधन के उम्मीदवार जीत रहे हैं। मायावती ने कहा कि भाजपा बहुत घबराई हुई है। गठबंधन से इनकी नींद उड़ी हुई है,चेहरे मुरझा गये हैं। 23 मई से इनके बुरे दिन भी बहुत तेजी से आने शुरू हो जाएंगे।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ आक्रामक तेवर अपनाते हुए बसपा सुप्रीमो ने कहा कि अपने गलत नीतियों और गलत कार्यप्रणाली के कारण भाजपा भी सत्ता से बाहर जा रही है। अब कोई जुमलेबाजी काम नहीं आएगी। प्रधानमंत्री ने 2014 के चुनाव में जो वादे किये थे, उसका चौथाई हिस्सा भी पूरा नहीं किया है। यह लोग केवल पूंजीपतियों की चौकीदारी में लगे हुए हैं। यहां के किसान बुरी तरह परेशान हैं। भाजपा के छोड़े गए आवारा पशुओं के कारण किसान परेशान और बर्बाद हो रहे हैं। मायावती ने कहा कि बाबा साहेब ने दलितों और पिछड़ों को आगे बढ़ाने के लिए जो जरूरी कानूनी अधिकार दिये थे, उसका लाभ भी नहीं मिल पाया।

आरक्षण को लेकर मायावती ने सरकार को घेरते हुए कहा कि गरीबों, दलितों, आदिवासियों, पिछड़े, मुस्लिम आदि का कोई विकास नहीं हो सका है। आरक्षण का कोटा तक अधूरा पड़ा है। पद्दोनति का कोटा भी खाली पड़ा है। कांग्रेस-भाजपा के शासन में बिना आरक्षण का इंतजाम किये ही सरकारी काम प्राइवेट को दिया जा रहा है। इससे दलितों -पिछड़ों को अधिकार नहीं मिल पा रहा है।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में जातिवादी व पूंजीपति सोच की वजह से गरीबों दलितों और आदिवासियों का कोई विकास नहीं हो सका है। पूरे देश में दलितों आदिवासियों व पिछड़ों का आरक्षण का कोटा अधूरा है।

मायावती ने कहा कि भाजपा की सरकार ने नोटबंदी और जीएसटी को बिना तैयारी ही लागू कर दिया है। इससे गरीबी और बेरोजगारी बहुत तेजी से बढ़ी है। बसपा मुखिया ने कांग्रेस को निशाने पर लेकर कहा कि कांग्रेस अपनी ही नीतियों की वजह से देश और राज्यों में सत्ता से दूर है। आजादी के बाद लंबे अरसे तक कांग्रेस बहुमत में रही मगर देश का सही दिशा में विकास नहीं हो सका। दोनों ही सरकारों में कानून का लाभ दलितों और पिछड़ों को नहीं मिल सका। सम्मेलन में मायावती ने केन्द्र के साथ प्रदेश की योगी सरकार को उखाड़ फेंकने की हुंकार भर कहा कि चुनाव बाद योगी को भी मठ में भेज देंगे।

प्रधानमंत्री बन गये प्रचार मंत्री-अखिलेश यादव

सम्मेलन में समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने भाजपा खास कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर जमकर प्रहार किया। उन्होंने कहा कि सामाजिक परिवर्तन के लिए बने गठबंधन ने चुनाव में भाजपा का सफाया कर दिया है। अब इन लोगों की नींद भी उड़ गई है। प्रधानमंत्री प्रचार मंत्री बन गये हैं और सिर्फ अमीरों के प्रधानमंत्री बन गये है।

सपा मुखिया ने प्रधानमंत्री पर तंज कसते हुए कहा कि धर्म के ठेकेदार बने प्रधानमंत्री की छुट्टी हो जायेगी। इन छुट्टियों में डॉ.लोहिया की हिन्दू बनाम हिन्दू किताब पढ़े तो पता चल जायेगा कि समाजवाद क्या है। सपा प्रमुख ने कहा कि देश ने पांच साल दिल्ली और दो साल यूपी का देखा है। लोगों ने तकलीफ और परेशानी झेली है। इस सरकार ने देश को धोखा दिया है। व्यापारी हों या छोटे कारोबारी, नोटबंदी के बाद पैसा जमा दिया अब पुराना पैसा किसी के पास नहीं। नोटबंदी के बहाने धोखा दिया।

उन्होंने कहा कि हमें समाजवाद का पाठ पढ़ाने वाले और गठबंधन टूटेगा कहने वाले जान लें केंद्र और राज्य दोनों जगह परिवर्तन होगा, नया भारत बनेगा।

Share it
Top