मोदी नेता नहीं अभिनेता, अच्छा तो अमिताभ बच्चन को ही बना देते प्रधानमंत्री: प्रियंका

मोदी नेता नहीं अभिनेता, अच्छा तो अमिताभ बच्चन को ही बना देते प्रधानमंत्री: प्रियंका

मिर्जापुर। कांग्रेस महासचिव तथा पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार को एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी नेता नहीं अभिनेता हैं, दुनिया का सबसे बड़ा अभिनेता प्रधानमंत्री बना। प्रियंका गांधी ने कहा, अच्छा होता अमिताभ बच्चन को ही प्रधानमंत्री बना देते। करना तो किसी ने कुछ नहीं था आपके लिए।

उन्होंने पार्टी के लोकसभा उम्मीदवार ललितेशपति त्रिपाठी के पक्ष में रोड शो के समापन के बाद जनसभा में कहा कि भाजपा का मकसद सत्ता हासिल करना है। प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले लोकसभा चुनाव के वक्त किए अपने वादों को पूरा नहीं किया। प्रियंका ने कहा कि कांग्रेस झूठे वादे नहीं करती बल्कि किसानों, गरीबों और युवाओं के हक में काम करती है। इस दौरान अजान की आवाज सुनायी देने पर प्रियंका ने कुछ देर के लिए अपना भाषण रोक दिया।

उन्होंने प्रधानमंत्री पर हमलावर होते हुए कहा कि देश के किसानों, मजदूरों और नौजवानों को अपने पांच साल के विकास कार्यो का हिसाब नहीं दे पा रहे हैं। देश में एक ऐसी सरकार है, जो हमारी लोकतांत्रिक संस्थाओं को लगातार कमजोर करती जा रही है।

भाजपा के दावे सभी खोखले हैं। किसानों को उनके फसल का दाम नहीं मिला, नौजवानों को नौकरी का वादा करने वालों ने रोजगार नहीं दिया। प्रियंका ने कहा कि भाजपा की सरकार में पांच करोड़ रोजगार कम हुए हैं। पिछले पांच सालों में युवाओं को रोजगार नहीं मिला। पन्द्रह लाख रोजगार भाजपा का चुनावी जुमला है।

उन्होंने कहा कि केंद्र में कांग्रेस की सरकार आएगी तो गरीबों का भविष्य चमकेगा। गरीबों को न्याय योजना के तहत 72 हजार रुपये सालाना मिलेंगे। किसानों, गरीबों और युवाओं का भविष्य सुधरेगा। अभी पिछले पांच सालों से किसान बेहाल हैं, किसानों को उपज का सही दाम नहीं मिल रहा और देश में बारह हजार किसानों ने खुदकशी की है।

उन्होंने कहा कि जीएसटी, नोटबंदी को लेकर सिर्फ जनता और किसान ही कतार में लगे रहे। इस दौरान कोई मंत्री या नेता कतार में नहीं नजर आया। जीएसटी से कालीन उद्योग पचास फीसद खत्म हो गया। नोटबंदी ने आपके पांव में कुल्हाड़ी मारी है। जिले के कालीन और पीतल उद्योग को बर्बाद किया गया। केंद्र और प्रदेश में भाजपा सरकार होते हुए भी विकास नहीं हुआ।

इससे पहले प्रियंका सुबह वाराणसी एयरपोर्ट पर पहुंचीं। वहां से हेलीकॉप्टर के जरिए मिर्जापुर के अष्टभुजा पहाड़ी के लिए रवाना हुई। यहां से डंकिन गंज की ओर प्रियंका का काफिला बढ़ने के साथ ही रोड शो की शुरूआत हुई। रोड शो बेलतर, गिरधर का चौराहा, खजांची का चौराहा, साईं मंदिर, संकटमोचन मंदिर तक गया। वहीं प्रियंका जब गिरधर चौराहे पर पहुंची तो भाजपा समर्थकों 'मोदी-मोदी' के नारे लगाए। कांग्रेस समर्थकों ने भी 'चौकीदार चोर है' के नारे लगाए। वहीं

प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री के पक्ष में नारे लगाने वाले भाजपा समर्थकों को माला पहना दी। रोड शो के बाद प्रियंका हेलीकाप्टर से वाराणसी के लिए रवाना हो गईं।

Share it
Top