मोदी ने बाबा विश्वनाथ को भी दिया धोखा..मोदी को इस चुनाव में गाय की हाय" लगेगी : अखिलेश

मोदी ने बाबा विश्वनाथ को भी दिया धोखा..मोदी को इस चुनाव में गाय की हाय लगेगी : अखिलेश


वाराणसी- समाजवादी पार्टी (सपा) प्रमुख अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीयत पर सवाल उठाते हुए गुरुवार को कहा कि इस शहर ने उन्हें प्रधानमंत्री बनाया लेकिन उन्होंने वाराणसी वासियों के साथ-साथ मां गंगा और बाबा विश्वनाथ को भी धोखा किया।

श्री सीरगोवर्धन पुर गांव में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती एवं राष्ट्रीय लोक दल (आरएलडी) अध्यक्ष अजित सिंह के साथ मंच साझा करते हुए श्री यादव ने कहा कि जापान के सुंदर धार्मिक शहर 'क्योटो' बनाने का वादा करने वाले श्री नरेन्द्र मोदी ने अनेक मंदिरों को तोड़वाकर हमारी सदियों पुरानी सांस्कृतिक विरासत को भी खत्म कर दिया है। सफाई का शोर मचाया गया, लेकिन हालत और खराब हो गए। नाविकों की रोजी-रोटी छीनकर अमीरों को फायदा पहुंचाया गया।

उन्होंने कहा कि क्योटो एवं स्मार्ट सिटी बनाने का ढोल पीटा गया, लेकिन पीने के पानी की भी व्यवस्था नहीं की गई। गंगा और वरुण किनारे बसे दुनिया के सबसे पुराने शहर के लोग पानी के लिए तरस रहे हैं। उन्होंने गंगा सफाई करने का अपना वादा पूरा करने के बजाये समाजवादी सरकार द्वरा शुरू किया की गई। वरुणा के सौंदर्यीकरण की परियोजना बंद कर दी। गरीबों की पेंशन भी बंद कर दी गई।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री मोदी ने गलत तरीके से नोटबंदी एवं जीएसटी लागू कर लोगों के रोजगार छीन लिये और उनके लिए पहले से भी अधिक बुरे दिन ला दिये। उनकी नीयत यदि साफ होती तो गंगा भी साफ होती और वरुणा नदी के सौंदर्यीकरण का काम भी नहीं रुकता। हमने वरुणा नदी को साफ कर के दिखाया था।यादव ने कहा कि कांग्रेस की तरह भाजपा भी गलत रास्ते पर चल रही है। श्री मोदी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद कहा था, "मैं न खाऊंगा और न किसी को खाने दूंगा।" लेकिन बीएसएफ के जवान तेज बहादुर यादव ने जब उन पर विश्वास कर अपने महकमे में खराब खानपान में भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाया तो उसे बर्खास्त कर दिया गया। देश की सीमा की रक्षा करने वाला जवान जब उनके खिलाफ चुनाव लड़ने वारासी आया तो उसे तरह-तरह से परेशान किया गया।

उन्होंने तंज करते हुए कहा कि जो व्यक्ति एक जवान से डर गया वह आतंकवादियों से कैसे मुकाबला कर पायेगा। सरकार की गलत नीतियों के कारण सीमा पर जवान शहीद हो रहे हैं, लेकिन प्रधानमंत्री उसका राजनीतिक लाभ उठाने में व्यस्त है।

श्री मोदी पर देश को विभाजित करने वाला काम करने का आरोप लगाते हुये उन्होने कहा कि रोजगार देने एवं अच्छे दिन लाने का वादा पूरा करने के बजाय श्री मोदी समाज को धर्म एवं जाति में बांटने में लगे हुए हैं। इसलिए दुनिया की सबसे बड़ी पत्रिका 'टाइम्स मैगजीन' ने श्री मोदी को विभाजनकारी बताया है।यादव ने कहा कि यह लोकतंत्र बचाने का चुनाव है और देश की जनता ने भाजपा को सत्ता से बाहर करने का मन बना लिया है। श्री मोदी अगले सात दिन के लिए प्रधानमंत्री हैं। उसके बाद देश को नया प्रधानमंत्री मिलेगा।

श्री सिंह ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार चुनाव आयोग, भारतीय रिजर्व बैंक,सीबीआई, उच्चतम न्यायलय समेत तमाम संवैधानिक संस्थाओं की स्वतंत्रा पर हमला किया है और देश संकट के दौर से गुजर रहा है।,

उन्होंने कहा कि पांच वर्षों में ही देश में सब कुछ कर लेने दावा किया जा रहा है, लेकिन सच्चाई यह है कि 'अच्छे दिन' का वादा करने वाले श्री मोदी ने गाय, मंदिर और धर्म के नाम पर समाज को बांट दिया। सच्चाई यह है कि गौरक्षक गायों को सड़क पर मार रहे या गौशालाओं में उनकी जान जा रही है।

उन्होंने कहा, "मोदी को इस चुनाव में गाय की हाय" लगेगी और पिछले चुनाव में उत्तर प्रदेश में 73 सीटें जीती। भाजपा का इस बार दहाई तक पहुंचना भी मुश्किल होगा।"


Share it
Top