पाकिस्तान आतंकवादियों को मदद करना तुरंत बंद करे: अमेरिका..भारत के लोगों के प्रति हमारी गहरी संवेदना

पाकिस्तान आतंकवादियों को मदद करना तुरंत बंद करे: अमेरिका..भारत के लोगों के प्रति हमारी गहरी संवेदना


वाशिंगटन । अमेरिका ने पाकिस्तान की इमारन खान सरकार को चेतावनी लेते हुए शुक्रवार को कहा कि वह सभी आतंकवादी संगठनों को सहयोग देना और उनके लिए संरक्षण देना तुरंत बंद करे।

अमेरिका ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार शाम हुए आतंकवादी हमले में भारत के साथ दृढ़ता से खड़े होते हुए पाकिस्तान के खिलाफ कड़ा रुख अख्तियार किया है। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव साराह सैंडर्स ने बयान जारी करके कहा, "पाकिस्तान अपनी सरजमीं से संचालित होने वाली सभी आतंकवादी गतिविधियों और आतंकवादी संगठनों को मदद करना तुरंत बंद करें।"

सुश्री सैंडर्स ने कहा, "इस हमले से अमेरिका और भारत के बीच आतंकवाद के खिलाफ अभियान तथा सहयोग को मजबूत करने का हमारा संकल्प और दृढ़ हुआ है। अमेरिका पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी संगठन द्वारा किये गये इस जघन्य हमले की कड़े-से कड़े शब्दों में निंदा करता है। "

उन्होंने कहा ,"इस हमले में जान गंवाने वालों के परिजनों ,भारत सरकार और भारत के लोगों के प्रति हमारी गहरी संवेदना है।"

उल्लेखनीय है कि भारत ने पुलवामा में सुरक्षा बलों पर आतंकवादी हमले को लेकर कड़ा रूख अख्तियार करते हुए कहा है कि पाकिस्तान में सक्रिय आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद (जेएएम) ने इस हमले का अंजाम दिया है। भारत ने संयुक्त राष्ट्र और अन्य देशाें से पाकिस्तान समर्थित आतंकी समूहों को प्रतिबंधित किये जाने का आह्वान किया है।

विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान की सरकार ने अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी मसूद अजहर की अगुवाई वाले आतंकवादी समूह को चलाने और उसके ढांचे को मजबूत करने के लिए उसे पूरी स्वतंत्रता दी है।

विश्वभर में इस आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा हो रही है। पुलवामा जिले के अवंतीपोरा में गुरुवार शाम को सीआरपीएफ के वाहन पर किये गये आतंकवादी हमले में कम से कम 40 जवान शहीद हो गये और कई जवान घायल हो गये।इससे पहले अमेरिका ने पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि अमेरिका आतंकवाद के सभी स्वरूपों का सामना करने के लिए भारत के साथ काम करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है और सभी देशों से आह्वान किया है कि वे आतंकवादियों को सहयोग और संरक्षण देना बंद करें।

अमेरिका के विदेश मंत्रालय के उप प्रवक्ता रॉबर्ट पालार्डिनों ने कहा, "अमेरिका भारत के जम्मू कश्मीर में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के काफिले पर हुए आतंकवादी हमले की पुरजोर निंदा करता है। हमले के पीड़ित परिवारों को हमारी गहरी संवेदनाएं। हम हमले में घायलों हुए जवानों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हैं।"

उन्होंने कहा, "पाकिस्तान में सक्रिय आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस घिनौने हमले की जिम्मेदारी ली है। हम सभी देशों से आह्वान करते है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव के अनुसार आतंकवादियों को सहयोग और संरक्षण देना बंद करें।"

भारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 1267 प्रतिबंध समिति के तहत नामित आतंकवादी के रूप में और जेएएम प्रमुख मसूद अजहर सहित आतंकवादियों और पाकिस्तान के नियंत्रण वाले आतंकी समूहों को सूचीबद्ध करने के प्रस्ताव का समर्थन करने के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय के सभी सदस्यों से अपील को दृढ़ता से दोहराया है।

Share it
Top