सपा कार्यकर्ताओं ने निकाली भड़ास, पुलिस से झड़प, सांसद धर्मेंद्र यादव के पिता धरने पर बैठे, लखनऊ,कानपुर,प्रयागराज,बदायूं समेत कई इलाकों में प्रदर्शन

सपा कार्यकर्ताओं ने निकाली भड़ास, पुलिस से झड़प, सांसद धर्मेंद्र यादव के पिता धरने पर बैठे, लखनऊ,कानपुर,प्रयागराज,बदायूं समेत कई इलाकों में प्रदर्शन



लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव को प्रयागराज जाने से रोके जाने से पार्टी समर्थकों का गुस्सा फूट पड़ा। राजधानी लखनऊ समेत राज्य के अधिसंख्य क्षेत्रों में सपा कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया। इस दौरान कई स्थानो पर पुलिस के साथ झड़पों में बदायूं के सांसद धर्मेन्द्र यादव समेत कई कार्यकर्ता चुटहिल हो गये।

लखनऊ,कानपुर,प्रयागराज,बदायूं,इटावा और मैनपुरी समेत कई इलाकों में सपा कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। सरकार विरोधी नारेबाजी कर पुतले फूंके। राज्य विधानसभा और विधान परिषद में मुख्य विरोेधी दल के सदस्यों ने इस कदर हंगामा किया कि दोनो सदनो की कार्यवाही कल तक के लिये स्थगित करनी पड़ी।

प्रयागराज से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को इलाहाबाद विश्वविद्यालय में आयोजित छात्रों के कार्यक्रम में शामिल होने की अनुमति नहीं दिए जाने के विरोध में समाजवादी छात्र संघ के कार्यकर्ताओं की पुलिस के साथ हुई झड़प में पार्टी के बदायूं से सांसद धर्मेंद्र यादव समेत कई छात्र और पुलिसकर्मी घायल हो गए। सपा नेता विजमा यादव ने बताया कि पुलिस द्वारा लाठीचार्ज में बदायूं से सपा सांसद धर्मेंद्र यादव और 15-20 छात्र घायल हुए हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री को लखनऊ हवाई अड्डे पर रोके जाने के विरोध में सपा कार्यकर्ता जुलूस के रुप में बालसन चौराहे पर जा रहे थे। जुलूस में धर्मेद्र यादव, फूलपुर सांसद नागेन्द्र सिंह पटेल, प्रवीण निषाद, सपा प्रवक्ता ऋचा सिंह सभी को बालसन चौराहे पर रोक दिया था जिससे आक्राेशित कार्यकर्ताओं ने चौराहे पर सरकारी होर्डिंग तोड़ दिए और टायर जलाये और पुलिस पर पथराव किया।

सपा सांसद धर्मेंद्र यादव के पिता अभयराम धरने पर बैठे

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को अमौसी एयरपोर्ट पर रोके जाने के बाद प्रदेश के हर जनपद में सपा कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

इसी क्रम में इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में हुए बबाल में घायल हुए सांसद धर्मेंद्र यादव के पिता अभयराम यादव ने भी सपा के गढ़ सैफई में थाने के बाहर अपने सैकड़ों समर्थको के साथ धरना प्रदर्शन कर इटावा मैनपुरी मार्ग जाम कर दिया। अभयराम पहली बार किसी सरकार के खिलाफ़ सड़क पर विरोध दर्ज करवाते हुए नजर आये। अभयराम ने अपने समर्थकों के साथ सरकार विरोधी नारेबाजी करने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए प्रदेश सरकार की नीतियों को अलोकतांत्रिक बताया।

Share it
Top