कांग्रेस ने कर्ज माफी के नाम पर लिया वोट, बाद में किसानों के पीछे लगा दी पुलिस : पीएम

कांग्रेस ने कर्ज माफी के नाम पर लिया वोट, बाद में किसानों के पीछे लगा दी पुलिस : पीएम


कोलकाता। शनिवार को कोलकाता से सटे उत्तर 24 परगना के ठाकुर नगर में जनसभा करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर किसानों को ठगने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने किसानों से कर्ज माफी के नाम पर वोट लिया और बाद में कहीं बहाना करते रहे तो कहीं किसानों के पीछे पुलिस लगा दी। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे देश में कई बार किसानों के साथ कर्ज माफी की राजनीति करके, किसानों की आंखों में धूल झोंकने के निर्लज्ज प्रयास हुए हैं। किसानों के भोलेपन का स्वार्थी दलों ने कई बार लाभ उठाया। चंद किसानों को इसका लाभ मिलता था और छोटे किसान इंतजार करते रह जाते थे।

कांग्रेस की पूर्ववर्ती सरकारों की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि जिन किसानों को कर्ज माफी का लाभ मिलता भी था, वो भी कुछ वर्षों के बाद फिर कर्जदार बन ही जाते थे। हाल में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के दौरान कर्ज माफी संबंधी मुद्दों को उठाते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आपने देखा होगा कि अभी कुछ राज्यों में कर्ज माफी के नाम पर किसानों से वोट मांगे गए। परिणाम क्या हुआ? ऐसे किसानों की कर्ज माफी हो रही है, जिसने कभी कर्ज लिया ही नहीं। जिसने कर्ज लिया उसकी ढाई लाख रुपये की माफी का वायदा किया था और माफी हुई 13 रुपये की। उन्होंने कहा कि ये कहानी मध्य प्रदेश की है| राजस्थान में तो सरकार ने हाथ ही खड़े कर दिए। राजस्थान सरकार कह रही है कि उसे पता ही नहीं था कि इतना अधिक राशि कर्ज ली गई है। कर्नाटक में कर्ज माफी के नाम पर किसानों का वोट लिया गया और जब किसानों ने इसकी मांग की तो उनके पीछे पुलिस लगा दी गई।

किसानों और आम लोगों के लिए बजट का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कल बजट में जिन योजनाओं की घोषणा की गई है उनसे देश के 12 करोड़ से ज्यादा छोटे किसान परिवारों को, 30-40 करोड़ श्रमिकों को, मेरे मजदूर भाई-बहनों को और तीन करोड़ से ज्यादा मध्यम वर्ग के परिवारों को सीधा लाभ मिलना तय है।


Share it
Top