इटावा में वक्फ की जमीन पर कब्जे को लेकर दो गुटों में पथराव ,14 हिरासत में, अफरा-तफरी मची

इटावा में वक्फ की जमीन पर कब्जे को लेकर दो गुटों में पथराव ,14 हिरासत में, अफरा-तफरी मची


इटावा। उत्तर प्रदेश के इटावा कोतवाली इलाके में वक्फ की बेशकीमती जमीन पर कब्जे को लेकर दो गुटों में हुए पथराव में कई लोग घायल हो गये। पथराव के चलते पचराहे पर अफरा-तफरी मच गई । सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने तीन महिलाओं समेत 14 लोगो को हिरासत में ले लिया है और घटना के बाद इलाके में एहतियातन पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

पुलिस अधीक्षक (सिटी) डा.रामयश सिंह ने बताया कि कोतवाली इलाके में पचराहे के पास स्थित वक्फ की कीमती जमीन को कब्जे को लेकर दो गुटों के बीच उस समय पथराव शुरू हुआ जब एक पक्ष विवादित जमीन पर निर्माण कराने की कोशिश में जुट गया । निर्माण देख दूसरे पक्ष ने आपत्ति उठाई और न माननेे पर पथराव कर दिया । बचाव में दूसरे पक्ष ने भी पथराव कर किया। इस घटना में दोनों पक्षों के करीब छह लोग जख्मी हुए हैं । सभी को उपचार के लिए अस्पताल में दाखिल करा दिया गया है ।

उन्होंने बताया कि वक्फ जमीन को मुतबल्ली ने किसी दूसरे पक्ष को रजिस्ट्री कर दिया है । उसके बाद आपत्ति होने के कारण इस पर निर्माण की रोक स्थानीय प्रशासन की ओर से लगा दी गई थी, लेकिन इस मामले को कुछ लोग सिविल अदालत में भी ले गए जिस कारण दोनों पक्षो के बीच तनाव बना हुआ था । इसी कारण पुलिस की तरफ से दोनों पक्षों के खिलाफ विरोधात्मक कार्रवाई भी समय-समय पर अमल में लाई जाती रही है । इसके बावजूद दोनों पक्ष मानने के लिए तैयार थे । उन्होंने बताया कि करीब दस बजे सुबह हंगामा तब शुरू हुआ जब बगैर इज़ाजत एक पक्ष के लोगों ने वहां निर्माण शुरू कर दिया।

श्री सिंह ने बताया कि इस मामले में पुलिस दोनों पक्षों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है। मौके पर उप जिला अधिकारी सिद्धार्थ और तहसीलदार एन.राम भी आ गए हैं। उनके के जरिए जमीन की नाप जोक और जमीन पर पाबंदी की प्रक्रिया अपनाई जा रही है । दोनों पक्षों को विवादित जमीन से अलग रहने के निर्देश भी दे दिए गए हैं ।


Share it
Top