पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एनआईए की छापेमारी, आधा दर्जन संदिग्ध पकड़े

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एनआईए की छापेमारी, आधा दर्जन संदिग्ध पकड़े


मेरठ। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में गुरुवार को एनआईए ने फिर से छापेमारी की। मेरठ और बुलंदशहर में छापेमारी करके दो संदिग्ध युवकों को पकड़ा है। मेरठ से पकड़ा गया युवक पहले पकड़ गए अफसार का भाई है। दोनों संदिग्धों के पास से दस्तावेज बरामद हुए हैं। एनआईए इन कागजों की पड़ताल कर रही है। हापुड़ से चार संदिग्धों को एनआईए ने पकड़ा है। एनआईए की टीम ने गुरुवार सुबह मुंडाली थाना क्षेत्र के जसोरा और अजराड़ा गांव में छापा मारा। पिछले दिनों गिरफ्तार किए गए जसोरा गांव निवासी अफसार को साथ लेकर पहले जसोरा में दबिश दी। जसोरा से एनआईए ने अफसार के छोटे भाई को पकड़ लिया। उसके पास से कुछ दस्तावेज भी बरामद हुए हैं।

वह भी दो महीने से जसोरा गांव के मदरसे में पढ़ा रहा था। जहां से उसके छोटे भाई सत्तार को हिरासत में लिया। अफसार का भाई दो माह से जसोरा के मदरसे में पढ़ा रहा था। एनआईए की टीम बार-बार किसी किताब के बारे में जानकारी मांग रही थी। इसके बाद अजराड़ा में उसके मामा के यहां टीम पहुंची। वहां से भी एनआईए को कुछ कागजात बरामद हुए। एनआईए ने उनके परिजनों व रिश्तेदारों से भी पूछताछ की। इसके साथ ही एनआईए ने बुलंदशहर में देहात कोतवाली क्षेत्र के कलौली गांव में छापा मारकर एक युवक को पकड़ लिया। उसके पास से भी कुछ दस्तावेज बरामद हुए हैं।

गौरतलब है कि आंतकी संगठन आईएस के नए माॅड्यूल का खुलासा करते हुए एनआईए ने 26 दिसंबर को प्रदेश में एक साथ 11 जगह छापामारी की थी। मेरठ के रार्धना गांव से नईम और कुछ दिन पहले जसोरा गांव के अफसार गिरफ्तार को किया गया था। उधर एनआईए ने हापुड़ जनपद के गढ़मुक्तेश्वर कोतवाली क्षेत्र के गांव बदरखा व अठसैनी में पुलिस टीम के साथ दबिश दी। एनआईए ने दो परिवार के चार सदस्यों को संदिग्ध आतंकी के रूप में हिरासत में लिया है। एनआईए परिवार के सदस्यों से अलग-अलग स्थानों पर ले जाकर पूछताछ कर रही है। इससे पूर्व हापुड़ जनपद में सिंभावली क्षेत्र के गांव वैठ में भी टीम ने छापा मारकर आतंकी इमाम साकिब पकड़ा था।


Share it
Top