अपना दल की बैठक में भाजपा को मिली चेतावनी, कहा..शेर को जगाइये मत..इसे हिंसक मत बनाइये.!

अपना दल की बैठक में भाजपा को मिली चेतावनी, कहा..शेर को जगाइये मत..इसे हिंसक मत बनाइये.!

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है, केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी को उसी के सहयोगी आंखें दिखाने लगे हैं। ताजा मामला केंद्र और उत्तर प्रदेश में भाजपा की सहयोगी अपना दल (सोनेलाल) (अपना दल) का है। अपना दल ने बीजेपी को दो टूक कहा है कि या तो वे अपने सहयोगियों के साथ व्यवहार सुधारें या तो पार्टी 'कोई भी निर्णय' ले सकती है।

अपना दल-सोनेलाल के राष्ट्रीय अध्यक्ष आशीष पटेल ने लखनऊ में कहा कि, 'उनकी पार्टी वर्ष 2014 से भाजपा के साथ गठबंधन में है और पूरी ईमानदारी से गठबंधन धर्म का पालन का पालन कर रही है, लेकिन यूपी में उसे बीजेपी ने उचित सम्मान नहीं दिया। आशीष पटेल ने चेतावनी भरे लहजे में कहा 'भाजपा अपना व्यवहार बदले, वरना हमारी नेता (अनुप्रिया पटेल) कोई भी निर्णय ले सकती हैं। शेर को जगाइये मत। यह शेर आपके पीछे चल रहा है, इसे हिंसक मत बनाइये। हमारी नेता जो भी निर्णय लेंगी, पूरी पार्टी उसका समर्थन करेगी'।

अपना दल-सोनेलाल के राष्ट्रीय अध्यक्ष आशीष पटेल ने कहा, 'हम किसी को धमकी नहीं दे रहे हैं, बल्कि अनुरोध कर रहे हैं। हमारी मांग है कि प्रदेश की भाजपा सरकार दलितों और पिछड़ों में फैली निराशा को खत्म करे। यह काम कैसे होगा, इसे वह बखूबी जानते हैं'। हमारी पार्टी की संरक्षक अनुप्रिया पटेल केन्द्र में स्वास्थ्य राज्यमंत्री हैं लेकिन उन्हें उत्तर प्रदेश में उन्हीं के मंत्रालय से जुड़ी परियोजनाओं से सम्बन्धित कार्यक्रमों में आमंत्रित नहीं किया जाता है। इसके अलावा प्रदेश भाजपा सरकार ने निगमों में अध्यक्ष तथा अन्य पदाधिकारियों के पदों पर नियुक्ति में भी अपना दल की घोर उपेक्षा की। आशीष पटेल ने यह भी कहा कि एक धड़ा ऐसा भी है जो नहीं चाहता कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में अगला लोकसभा चुनाव हो। हालांकि उनसे जब यह पूछा गया कि वह कौन सा धड़ा है, तो आशीष पटेल ने कोई जवाब नहीं दिया। [रॉयल बुलेटिन अब आपके मोबाइल पर भी उपलब्ध ,ROYALBULLETIN पर क्लिक करें और डाउनलोड करे मोबाइल एप ]

Share it
Top