मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप - सीबीआई का खुलासा, बच्चियों को ब्लू फिल्म दिखा… कुर्सी से बांधकर किया जाता था रेप

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप - सीबीआई का खुलासा, बच्चियों को ब्लू फिल्म दिखा… कुर्सी से बांधकर किया जाता था रेप


मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप केस में सीबीआई की ओर से विशेष पॉक्सो कोर्ट में दाखिल किये गए 73 पन्ने की चार्जशीट में ब्रजेश ठाकुर , रवि रौशन, विकास कुमार, दिलीप कुमार वर्मा, रोजी रानी व अन्य पर कई गंभीर व संगीन आरोप लगे है। चार्जशीट में दो आरोपितोंको ट्रेसलेस बताया है। ये भी खुलासा हुआ है क‍ि ब्रजेश बच्च‍ियों से अश्लील गानों पर डांस कराकर दुष्कर्म करता था। व‍िरोध करने पर ब्रजेश की करीबी सहयोगी मधु, बच्च‍ियों को खाने में सूखी रोटी और नमक देती थी।

इसके अलावा तत्कालीन सहायक निदेशक रोजी रानी पर बालिका गृह में हो रही हिंसक वारदातें और यौन उत्पीड़न की जानकारी के बावजूद मुख्यालय व जिला प्रशासन को इसकी रिपोर्ट नहीं सौंपी। इसे लेकर सीबीआई ने भी टिप्पणी की है। बालिका गृह कांड की जांच कर रही इंसपेक्टर विभा कुमारीने चार्जशीट में राेजी रानी पर टिप्पणी करते हुए कहा है कि जिला चाइल्ड प्रोटेक्शन यूनिट की सहायक निदेशक होते हुए रोजी रानी ने अपने कर्तव्यों का पालन नहीं किया है।

रोजी रानी ने किया था 11 बार बालिका गृह का निरीक्षण

चार्जशीट के अनुसार, रोजी रानी 19 मई 2014 से लेकर 03 अगस्त 2017 तक मुजफ्फरपुर में बतौर जिला चाइल्ड प्रोटेक्शन यूनिट की सहायक निदेशक के पद पर थी। इस दौरान जिला निरीक्षण टीम ने 11 बार साहू रोड स्थित बालिका गृह का निरीक्षण किया। निरीक्षण टीम में रोजी रानी भी शामिलथी। यह निरीक्षण 28 फरवरी 2015 से लेकर 05 जून 2017 तक क‍िया गया। इस दौरान बालिका गृह में रहने वाली बच्चियों ने रोजी रानी से अपना दर्द बयां क‍िया था।

बच्चियों ने बालिका गृह का खोला था राज

बच्चियों ने निरीक्षण के दौरान रोजी रानी से बालिका गृह के माहौल व हालात के बारे में बताया था। साथ में इस बात की भी जानकारी दी थी कि इसमें रहने वाली बच्चियों के साथ ब्रजेश ठाकुर, रवि रौशन व विकास कुमार ने दुष्कर्म किया है। साथ ही उन्हें मारा व पीटा भी है। इसशिकायत के बावजूद रोजी रानी ने बच्चियों को बचाने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया। साथ ही ऑल इज वेल की रिपोर्ट मुख्यालय और जिला प्रशासन को सौंपी।[रॉयल बुलेटिन अब आपके मोबाइल पर भी उपलब्ध ,ROYALBULLETIN पर क्लिक करें और डाउनलोड करे मोबाइल एप ]

सिर पर मारने से मरी थी एक बच्ची

चार्जशीट के अनुसार, पीड़िता ने ब्रजेश पर बालिका गृह में रहने वाली एक बच्ची के हत्या का आरोप लगाया है। इसमें बताया है कि ब्रजेश ठाकुर और नौकर कृष्णा ने बच्चियों के साथ यौन उत्पीड़न किया। साथ ही यह भी आरोप लगाया है कि ब्रजेश ने एक बच्ची के सिर पर मारा था। इसमेंउसकी मौत हो गई थी। इसमें उसकी मदद किरण, हेमा और गुड्डू ने की थी।

ब्रजेश ने नाबालिग के साथ किया था दुष्कर्म का प्रयास

चार्जशीट में पीड़ित एक बच्ची ने आरोप लगाया कि ब्रजेश ठाकुर ने एक तीन साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया था। उसने यह भी आरोप लगाया कि वह एक बच्ची की हत्या भी कर चुका है। एक पीड़िता ने आरोप लगाया कि ब्रजेश ठाकुर ने उसके हाथ पर अटैक किया था। उसकेहाथ पर जख्म भी है। इसमें उसे बालिका गृह में कार्यरत कुछ लड़क‍ियों ने इसमें मदद की थी।

रोजी की कलई बच्चियों ने खोली

चार्जशीट के मुताबिक, सीबीआई ने पीड़ित बच्चियों को रोजी रानी की तस्वीर दिखाई। इसके बाद बच्चियों ने उसकी कलई खोलकर रख दी। साथ ही सीबीआई को कई अहम जानकारी भी दी। इस वाकये की पुष्टि चार्जशीट में दो पीड़िताओं के बयान से होती है।

Share it
Top