भगवा पगड़ी बांध कर मोदी सरकार पर जमकर बरसे अखिलेश यादव, बोले- 'सारे धर्मों का सार एक-दूसरे से प्रेम और विश्वास'


वाराणसी। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सारे धर्मों का सार एक-दूसरे से प्रेम, सम्मान और भरोसा है। इसी के सहारे हम, हमारा समाज और राष्ट्र्र आगे बढ़ता है। दुनिया के सभी धर्मों का रास्ता एक है। हमें धर्म मानना ही नहीं उसके बारे में जानना भी चाहिए।

वाराणसी के खिड़किया घाट पर आयोजित गोवर्धन पूजा में शामिल होने आए अखिलेश यादव ने कहा कि श्रीकृष्ण का जीवन हमें बहुत कुछ सिखाता है। श्रीकृष्ण की शिक्षाओं को पढ़ कर हम अपने जीवन को धन्य बना सकते हैं। सिर पर भगवा पगड़ी बांध कर जब अखिलेश यादव ने भाषण देना शुरू किया तो वहां पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गयी।

अखिलेश ने कहा कि कुछ लोगों ने मां गंगा को स्वच्छ करने का वादा किया था लेकिन उनकी नीयत ही साफ नही है। गंगा को साफ करने से पहले यमुना को साफ करना होगा।

अखिलेश यादव ने कहा कि महादेव की नगरी काशी में गंगा किनारे गोवर्धन पूजा में शामिल होना उनके लिए बहुत ही सौभाग्य की बात है। इस दौरान अखिलेश यादव ने नोटबंदी, राफेल डील, जीएसटी आदि को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा। यादव समाज में जिस तरह से अखिलेश यादव के प्रति दीवानगी देखी गयी है उससे शिवपाल यादव की नीद उडऩी तय है जो सपा के कैडर वोटरों में सेंधमारी करने में जुटे हुए हैं। उन्होंने कहा कि समाजवादी आम आदमी के साथ खड़े होकर संघर्ष करते हैं। समाजवादी लोग झूठे वादे नही करते हैं और जो कहते हैं उस पर अमल करते हैं।

कृष्णावतार में लगे अखिलेश यादव के पोस्टर

शहर के कई हिस्सों में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता मनोज यादव उर्फ़ गोलू के नाम से लगे पोस्टर में अखिलेश यादव को 'कृष्ण' के अवतार के रूप में दिखाया गया हैं। शहर के कई हिस्सों में लगे ये पोस्टर चर्चा का विषय बने हुए हैं। रॉयल बुलेटिन की नई एप प्ले स्टोर पर आ गयी है।royal bulletin news लिखे और नई app डाउनलोड करें

Share it
Top