उप्र के मंत्री नंदगोपाल गुप्ता पर हमले के आरोपित राजेश पायलट की सफदरजंग अस्पताल में मौत

उप्र के मंत्री नंदगोपाल गुप्ता पर हमले के आरोपित राजेश पायलट की सफदरजंग अस्पताल में मौत



नई दिल्ली । उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में शामिल मंत्री नंदगोपाल गुप्ता नंदी पर बम से जानलेवा हमले का मुख्यारोपित राजेश पायलट की मौत दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में हो गई।अस्पताल की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक पायलट दो सितम्बर से ब्रेन हैमरेज से पीड़ित था। उसे दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में एडमिट कराया गया था।

17 फरवरी, 2018 से पायलट बुलन्दशहर जिला जेल में बंद था। उसे इलाहाबाद नैनी जेल से फरवरी महीने में बुलन्दशहर जिला जेल लाया गया था। वह मध्य प्रदेश के हरदा जिले का निवासी था। जेल अधीक्षक ओपी कटियार ने भी इसकी पुष्टि की थी।

12 जुलाई, 2010 को मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता उर्फ नंदी के ऊपर जानलेवा हमला आरडीएक्स का विस्फोट कर किया गया था। इस घटना की चपेट में कुछ अन्य लोगों की भी मौत हो गई थी। इस मामले में दर्ज मुकदमे में कुल 18 आरोपित हैं। इस सूची में राजेश पायलट के अलावा विधायक विजय मिश्र व चाका के पूर्व ब्लाक प्रमुख दिलीप मिश्र, राजेश पायलट, महेंद्र मिश्र आदि शामिल हैं। मामले में अभी महेंद्र मिश्र भी जेल में बंद हैं। बाकी आरोपित जमानत पर बाहर हैं। अभी जिला न्यायालय में अभियोजन की ओर से गवाही पूर्ण नहीं हो पाई है।


Share it
Top