योगी का सपा पर करारा हमला, अखिलेश को बताया औरंगजेब..जो अपने बाप और चाचा का नहीं हुआ वह औरों का क्या हो सकता..?

योगी का सपा पर करारा हमला, अखिलेश को बताया औरंगजेब..जो अपने बाप और चाचा का नहीं हुआ वह औरों का क्या हो सकता..?



लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को समाजवादी पार्टी (सपा) पर करारा हमला किया। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का बगैर नाम लिए उनकी तुलना मुगल बादशाह औरंगजेब से की।

राजधानी में आज भाजपा के पिछड़ा वर्ग सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि आज कोई मुसलमान भी अपने बेटे का नाम औरंगजेब नहीं रखता है क्योंकि वह अपने बाप को कैद कर रखा था। इस दौरान अखिलेश यादव का नाम लिये बगैर योगी ने कहा कि जो अपने बाप और चाचा का नहीं हुआ वह औरों का क्या हो सकता है।

अखिलेश ने भी गुरुवार को लखनऊ में ही सपा के एक सम्मेलन में कहा था कि वर्ष 2019 में योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं रहेंगे। ऐसे में योगी का आज का बयान अखिलेश के बयान का पलटवार माना जा रहा है। हालांकि, पिछले वर्ष विधानसभा चुनाव के दौरान भी योगी आदित्यनाथ कई जनसभाओं में अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए उनकी तुलना कंस और औरंगजेब से करते थे।

आज भाजपा के पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में निषाद, कश्यप और बिंद समाज के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी ने आरोप लगाया कि पूर्ववर्ती अखिलेश सरकार ने ही निषाद समाज के आरक्षण का मामला उलझाया। योगी ने आश्वस्त किया कि वह निषाद, कश्यप और बिंद समाज के लोगों को आरक्षण दिलाने की पूरी कोशिश करेंगे।

योगी ने कहा कि सपा ने पिछड़ों के साथ धोखा किया, जबकि भाजपा सरकार ने उनके हक के लिए पिछड़ा आयोग को संवैधानिक दर्जा दिलाया। प्रदेश की कानून व्यवस्था पर बोलते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि पूर्ववर्ती सपा सरकार में दंगे होते थे। अब किसी में दंगा करने की हिम्मत नहीं है। कहा कि भाजपा सरकार में सभी त्यौहार शांतिपूर्वक सम्पन्न हो रहे हैं।

इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य निषाद, कश्यप और बिंद समाज के लोगों का आवाहन करते हुए कहा कि देश और प्रदेश के पूर्ण विकास के लिए नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने का पुरजोर संकल्प लें। केशव ने भी वादा किया कि भाजपा निषाद समाज को आरक्षण दिलाने की पूरी कोशिश करेगी।

केशव मौर्य ने इस मौके पर घोषणा की कि इलाहाबाद के श्रृंगवेरपुर धाम में निषाद राज और भगवान राम का गले मिलते हुए भव्य प्रतिमा की स्थापना की जाएगी। केशव ने निषाद समाज के लोगों से अपने बच्चों को संपूर्ण साक्षर बनाने की अपील भी की। कहा कि हर समस्या के समाधान की सही चाबी पढ़ाई ही है। पूर्व में निषाद, कश्यप और बिंद समाज क प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री का स्वागत किया।

गौरतलब है कि भाजपा पिछले कई दिनों से राजधानी में पार्टी के पिछड़ा वर्ग मोर्चा का जातिवार सम्मेलन कर रही है। इसकी जिम्मेदारी उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को दी गयी है। भाजपा सितम्बर के अंत या अक्टूबर माह में पिछड़ों की बड़ी रैली भी आयोजित करने की तैयारी में है। पार्टी से जुड़े सूत्रों के अनुसार इस प्रस्तावित रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को भी लाने की कबायद चल रही है।

Share it
Top