उत्तर प्रदेश में भारत बंद का असर, कई जगहों पर प्रदर्शन, मेरठ, गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर समेत तमाम जिलों के पुलिस कप्तान अलर्ट पर, आगरा में भीमराव अंबेडकर की मूर्ति तोड़ी

उत्तर प्रदेश में भारत बंद का असर, कई जगहों पर प्रदर्शन, मेरठ, गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर समेत तमाम जिलों के पुलिस कप्तान अलर्ट पर, आगरा में भीमराव अंबेडकर की मूर्ति तोड़ी



लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कई जिलों में विभिन्न संगठनों की ओर से भारत बंद का समर्थन करते हुए गुरुवार को सुबह से ही एससी एसटी एक्ट के विरोध में प्रदर्शन किया गया है। सभी संगठनों ने एक्ट के सुधार की मांग करते हुए सवर्णों के हित में नियम को बनाने की बात कही है।

लखनऊ में आलमबाग, महानगर, लखनऊ विश्वविद्यालय मार्ग क्षेत्रों में सुबह से ही सवर्णों ने भारत बंद के समर्थन में प्रदर्शन किया। इस दौरान सर्वजन हिताय संरक्षण समिति के कार्यकर्ताओं ने आलमबाग में सड़क पर आकर केन्द्र सरकार विरोधी नारेबाजी की। भारतीय नागरिक परिषद के अध्यक्ष चन्द्रप्रकाश ने विश्वविद्यालय मार्ग पर काली पट्टी बांधकर मार्च निकाला। ब्राह्मण सभा के कार्यकर्ताओं ने महानगर समेत शहर के अन्य हिस्सों में एक्ट की प्रतीकात्मक प्रतियों को फाड़कर प्रदर्शन किया।

यूपी के इलाहाबाद, आजमगढ़, गोरखपुर, कानपुर, आगरा, मथुरा, मेरठ, कासगंज, हापुड़, गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर समेत तमाम जिलों के पुलिस कप्तानों को अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया गया है।

इलाहाबाद में कान्यकुब्ज ब्राह्मण सभा के दिवाकर त्रिपाठी के नेतृत्व में सिविल लाइन इलाके में विरोध प्रदर्शन किया गया। सुबह से ही सभा के कार्यकर्ताओं ने एक स्थान पर इकट्ठे होकर जुलूस की शक्ल में चलना शुरू किया और सरकार विरोधी नारेबाजी की। इसी तरह से गोरखपुर में बेतियाहाता क्षेत्र में क्षत्रिय महासभा के कार्यकर्ताओं ने एससी /एसटी एक्ट लिखे पोस्टरों को जलाकर प्रदर्शन किया।

वाराणसी में लंका क्षेत्र में भारत बंद का समर्थन कर रहें अखिल हिन्दू ब्राह्मण सभा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पुतला जलाकर प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने एससी /एसटी एक्ट लिखे पोस्टर भी जलाये। फिरोजाबाद जिले के गांधी मैदान से एक्ट के विरोध में रैली निकाली गयी। कानपुर में भारत बंद का समर्थन व्यापार मंडलों ने किया है और अपनी दुकानें स्वयं से बंद कर दी है। शहर के कई हिस्सों में सुबह खुल जाने वाली दुकानें 10 बजे तक नहीं खुली।

कासगंज जिले में सुबह से ही भारत बंद का समर्थन करते हुए सवर्ण संगठनों के कार्यकर्ताओं ने दुकानों को बंद कराया गया। क्षत्रिय महासभा के प्रताप सिंह के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं के दुकानों को बंद कराने के दौरान कुछ दुकानदारों ने विरोध भी कर दिया। इसी तरह से अलीगढ़ जिले में दुकानों को बंद कराने के समय ओबीसी समाज के लोगों ने भी भारत बंद का समर्थन किया और अपनी दुकानों को बंद कर दिया।

एससी-एसटी एक्ट में बदलाव के मुद्दे पर केंद्र सरकार की सहमति पर सवर्णों के संगठनों ने भारत बंद का आह्वान किया। जिसमें गुरुवार को उत्तर प्रदेश में भी एससी एसटी एक्ट के खिलाफ में कई जिलों में प्रदर्शन हुए।

पुलिस पर पथराव के जवाब में फायरिंग

आगरा में एससी-एसटी एक्ट के विरोध में गुरुवार को शांतिपूर्ण भारत बंद का ऐलान भंग होता दिखााई दिया। भारत बंद के दौरान शहर और देहात में मारपीट, पथराव व आगजनी की घटनाएं हुईं। पिनाहट में पैसेंजर ट्रेन भी रोकी गई। तेहरा मोड़ उपद्रवियों को खदेड़ने के लिये पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। खेरागढ़ में जाम लगा रहे लोगों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया जहां आक्रोशित भीड़ ने पुलिस पर पथराव किया। आगरा जिले के शमशाबाद में अराजकतत्वों ने डॉ भीमराव अंबेडकर की मूर्ति क्षतिग्रस्त कर दिया। मूर्ति के क्षतिग्रस्त होने से कस्बे में तनाव बढ़ गया है।

एससी-एसटी एक्ट के विरोध में सर्व समाज संघर्ष समिति की ओर से शांतिपूर्ण भारत बंद का ऐलान किया गया था लेकिन शहर में आगजनी की घटना हुईं। राजपुर चुंगी पर बाजार बंद करा रहे लोगों ने चौराहे पर टायर में आग लगाकर प्रदर्शन किया। एक दुकान में भी लूटपाट की और शहर भर में विरोध प्रदर्शन करके जुलूस निकाले गए। सरकार के खिलाफ नारेबाजी की गई। इस दौरान पुलिस प्रशासन पूरी तररह अलर्ट रहा और शहर में हो रही घटनाओं पर कड़ी नजर रखी।

बाजार बंद करने के बाद आक्रोशित लोगों ने इटावा वाया मार्ग पर चलने वाली डीएमयू पैसेंजर को भदरौली में रोककर प्रदर्शन किया और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। मौके पर पहुंचे एसडीएम, तहसीलदार सीओ, एसपी ग्रामीण ने लोगों को शांत कराया। खेरागढ़ में जाम लगा रहे लोगों पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया तो आक्रोशित भीड़ ने पुलिस पर पथराव किया। पुलिस ने घरों में घुस कर जान बचाई जिसके बाद पब्लिक ने वहां से निकल रही एक प्राइवेट बस के शीशे चकनाचूर कर दिए। थाना अछनेरा क्षेत्र के कस्बा रायभा में सर्वण समाज के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंक कर, मोदी तेरी तानाशाही नहीं चलेगी के नारे लगाये।

शमशाबाद के नरीपुर में अराजक तत्व लोगों ने पार्क में लगी अंबेडकर मूर्ति को क्षतिग्रस्त करके माहौल को बिगड़ने का प्रयास किया। सूचना पर पहुंचे एसडीएम, तहसीलदार एसपी ग्रामीण और सीओ ने स्थिति को संभाला और नई मूर्ति लगाने का आश्वासन दिया। इसके बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ। सैया, फतेहपुरसीकरी, बाहा, खंदौली, बरहन, किरावली, अछनेरा, कागारोल, जगनेर, बटेश्वर, एत्मादपुर, मलपुरा, आदि देहात के इलाकों में शांतिपूर्वक लोगों ने पूर्ण रूप से बाजार बंद रखा। इस दौरान पुलिस लगातार बाजार में गश्त करती रही।

Share it
Top