बाड़मेर में मुख्यमंत्री की गौरव यात्रा को लेकर तनाव, बजरंग दल व रावणा राजपूत समाज करेगा बहिष्कार, चप्पे-चप्पे पर पुलिस का पहरा

बाड़मेर में मुख्यमंत्री की गौरव यात्रा को लेकर तनाव, बजरंग दल व रावणा राजपूत समाज करेगा बहिष्कार, चप्पे-चप्पे पर पुलिस का पहरा



बाड़मेर| आज शनिवार को मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे गौरव यात्रा पर बाड़मेर पहुंचेंगी। उद्देश्य सरकार द्वारा किये गए जनकल्याणकारी कार्यों को जनता के बीच रख आगामी विधानसभा के लिए वोट मांगना है। मुख्यमंत्री के आने से पहले बाड़मेर का वातावरण तनावपूर्ण हो गया है। सबके मन मे डर बैठ गया कि क्या होगा। किसी अनहोनी घटना से निपटने के लिए पुलिस कमर कस कर बैठी है। कड़े सुरक्षा बंदोबस्त के बीच आज जिले के गुड़ामालानी, चौहटन और बाड़मेर में मुख्यमंत्री जनसभाएं करेंगी। मुख्यमंत्री की दो दिवसीय बाड़मेर यात्रा में 9 आईपीएस, 50 से अधिक एएसपी व डिप्टी एसपी, 3000 पुलिस व आरएसी के जवान तैनात रहेंगे।

मुख्यमंत्री की सभा स्थल के आसपास रहने वालों को पुलिस ने नोटिस देकर पाबंद किया है। कई युवकों को आशंका के चलते शांति भंग में गिरफ्तार कर पाबन्द किया गया है। मुख्यमंत्री की सभा जो भाजपा के बैनर तले हो रही उसके लिए पुलिस द्वारा फ्लैग मार्च निकाला गया। इधर आधा दर्जन मंत्री वसुंधरा राजे की सभा को सफल (येनकेन) बनाने के लिए जुटे हुए हैं। स्थानीय भाजपा नेता पीले चावल देने गए तो उनका विरोध हो गया। जनता से वोट मांगने का यह नया तरीका है।

रावणा राजपूत समाज करेगा बहिष्कार

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा प्रदेश में निकाली जा रही गौरव यात्रा को लेकर रावणा राजपूत समाज ने बहिष्कार करने की घोषणा की है| रावणा राजपूत समाज के युवा प्रदेशाध्यक्ष पहाड़ सिंह कुण्डल ने बताया कि पूरे प्रदेश में आनंदपाल प्रकरण के कारण रावणा राजपूत समाज भाजपा से नाराज है। भाजपा द्वारा समाज की ग्यारह सूत्रीय मांगें नहीं मानी जा रही हैं, इसको लेकर समाज मे नाराजगी है। साथ ही ओबीसी वर्गीकरण मुद्दे पर भी सरकार की सकारात्मक प्रतिक्रिया नहीं होने की वजह से मूल ओबीसी समाज नाराज है। रावणा राजपूत समाज भी मूल ओबीसी का मुख्य संगठन है। प्रदेश में रावणा राजपूत समाज की जनसंख्या 45 से 50 लाख की होने के बावजूद सरकार का रुख इस समाज के प्रति सकारात्मक नहीं होने के कारण समाज ने उपचुनाव में भाजपा को हराकर अपनी ताकत का अहसास करवाया था। इसके बावजूद सरकार समाज की मांगे नहीं मान रही है। इसका परिणाम समाज विधानसभा चुनावों में देगा|

बजरंग दल करेगा विरोध

बजरंग दल बाड़मेर के जिला संयोजक जसवंतसिंह योद्धा ने बताया कि एक वर्ष पूर्व पुलिस द्वारा गौवंश से भरे ट्रक रुकवाने के विरोध में संगठन के कार्यकर्ताओं को झूठे मुकदमे में फंसाकर पुलिस द्वारा प्रताड़ित किया जा रहा है| वीडियो फुटेज में यह साफ-साफ दिख रहा है कि विहिप व बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने मामले को शांत करवाने में प्रशासन का सहयोग किया था।

इस मामले को लेकर कई बार मुख्यमंत्री, गृहमंत्री अन्य मंत्रियों व प्रशासन के उच्च अधिकारियों से संपर्क कर अवगत करवाया गया परन्तु सरकार व प्रशासन के कान पर जूं तक नही रेंगी। इस झूठे मुकदमे को लेकर संगठन के कार्यकर्ताओं तथा जिले भर के गौभक्तों में आक्रोश है| आज होने जा रही मुख्यमंत्री की गौरव यात्रा का संगठन के कार्यकर्ता तथा गौभक्त काले झण्डे दिखाकर विरोध प्रदर्शन करेंगे।


Share it
Share it
Share it
Top